शिक्षाकर्मियों को क्यों नहीं मिल रहा एरियर्स…? सामने दीपावली …… और टूट रही आस

बिलासपुर । सरकारी स्कूलों में काम करने वाले शिक्षा कर्मी अपने एरियर्स को लेकर दफ्तरों के चक्कर लगा रहे हैं। संबंधित विभाग को इसकी कोई चिंता नहीं है। हालांकि विभाग की ओर से इसके लिए फंड जारी होने की खबरें आती रहीं हैं। जिससे शिक्षा कर्मियों को दीपावली त्यौहार पर एरियर्स मिलने की उम्मीद बंधी थी । लेकिन विभाग के रवैये की वजह से उन्हे राहत नहीं मिल पा रही है। शिक्षा कर्मियों के बीच इसे लेकर चर्चा भी है और रोष भी दिखाई दे रहा है।
बताया जाता है कि प्रदेश के लगभग सभी जिलों में एरियर्स धीरे धीरे कुछ कुछ शिक्षाकर्मियों को मिलता रहा है। लेकिन वह भी उन्ही लोगों तक पहुंचा है , जिन पर अधिकारियों की कृपा रही है। उन्हें लाइन तोड़ एरियर्स मिल गया है।आपस की बातचीत में लोग कहते हैं कि  आम शिक्षाकर्मी परसेंटेज के खेल में फँसना नही चाहता या कोई लिंक नहीं भिड़ा पाता वह  आवेदन दे कर खाना पूर्ति ही कर रहा है।
ऐसा नही है कि करोड़ो दबाये बैठा  पंचायत विभाग शिक्षको के एरियर्स के लिए चिंतित नही है ।  पिछले दिनों  एरियर्स आबंटन के संबंध में राशि और दिशा निर्देश संबंधित विभाग की ओर से जारी भी किए गए थे। कई जिलों में फंड भी जारी हुए थे। और भुगतान भी हुए है ।
पर कुछ खास जिलों के ब्लाक लेवल के अधिकारियों ने छत्तीसगढ़ शासन की व्यवस्था में कुशासन फैलाने के लिए खास- खास लोगों का भुगतान कर दिया और बजट व आबंटन का रोना रोना शुरू कर दिया है।
प्रदेश के एक लाख अस्सी हजार शिक्षाकर्मियों के सेवाकाल के दौरान मासिक वेतन में कुछ विसंगतियां रहती है। जिसे बाद में एरियस के रूप में दिया जाता है। ये मिलने वाला एरियर्स , इंक्रीमेंट तो किसी शिक्षक का महंगाई भत्ता व अन्य भत्ते मूल वेतनमान में  जुड़ नहीं पाते हैं ।
बाद में ये राशि बढ़ते – बढ़ते शासन के पास कई गुना हो जाती है। इसे बाद में एरियर्स के रूप में इससे जुड़े दस्तावेज प्रस्तुत कर आवेदन देने पर शिक्षक को एरियर्स के रूप में भुगतान किया जाता है। यह एरियर्स दस हजार से  लाखों रुपए तक का हो सकता है। चर्चा इस बात को लेकर भी  है कि दीपावली नज़दीक है और बचा हुआ वेतनमान या एरियर्स आम शिक्षकों के लिए कुछ खुशियां प्रदान कर  सकता है  ।
पर ब्लॉक लेवल के अधिकारी किसकी झोली में खुशियाँ भरने वाले है या  भर चुके हैं …….। और यह खुशियां किस कीमत पर  मिलने वाली हैं….. यह तो एरियर्स पाने वाला ही बता सकता है कि उसने कितने दाम चुकाए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *