शिक्षा मंत्री टेकाम ने बताया..भ्रष्टाचार करने वालों को नहीं छोड़ेंगे..किसानों के साथ नहीं होगा अन्याय..सरकार से सभी खुश

बिलासपुर— शिक्षा,सहकारिता और आदिवासी विकास मंत्री  ने कहा एक साल के अन्दर भूपेश सरकार ने बहुत काम किया है। किसान युवा और मध्यवर्ग के लोग भूपेश सरकार से खुश है। किसानों को 2500 रूपए समर्थन मूल्य दिय़ा जाएगा। यदि किसानों के साथ कोई अधिकारी अन्याय करता है उसे छोड़ा नहीं जाएगा। प्रेमसाय सिंह टेकाम ने कहा कि छतौना संग्रहण केन्द्र में भारी लापरवाही हुई है। सोसायटी प्रबंधक बर्खास्त कर दिया गया है। शिक्षा और आदिवासी विभाग में यदि किसी प्रकार की शिकायत या भ्रष्टाचार का मामला है तो जांच और कार्रवाई करेंगे।

                शिक्षा सहकारिता और आदिवासी विकास मंत्री प्रेमसाय सिंह आज बिलासपुर प्रवास पर पहुंचे। उन्होने बताया कि किसानों का धान वादा के अनुसार खरीदा जाएगा। किसानों को टोकन नहीं मिल रहा कि शिकायत अभी तक हम तक नहीं पहुंची है। किसानों का धान नहीं खरीदा जा रहा है। यह भ्रामक शिकायत है।

                      एक तो धान की खरीदी देरी से हुई…बावजूद इसके रख रखाव को लेकर ध्यान नहीं दिया गया। सवाल के जवाब में प्रेमसाय ने कहा कि धान खरीदी में किसी प्रकार की देरी नहीं हुई है। किसानों के साथ अन्याय नहीं होगा। ना ही होने दिया जाएगा। आकस्मिक बारिश के कारण रखरखाव में थोड़ी बहुत परेशानी हुई है। लेकिन धान को नुकसान नहीं हुआ है। यह गलत जानकारी है कि धान को नुकसान हुआ है। आज मैंने धान संग्रहण केन्द्रों का निरीक्षण किया। छत्तौना में थोड़ी बहुत अनियमितता देखने को मिली। प्रबंधक बर्खास्त कर दिया गया है।

                आदिवासी विभाग में मेट्रैक्स खरीदी में लापरवाही की शिकायत आ रही है। कुछ इसी तरह की शिकायत शिक्षा विभाग में किचन डिवाइस खरीदी को लेकर उठे सवाल पर टेकाम ने कहा इसकी जानकारी उन्हें नहीं है। यदि ऐसा कुछ है तो पता लगाएंगे और कार्रवाई भी करेंगे। भ्रष्टाचार करने वालों को नहीं छोड़ेंगे।

                   इस दौरान मेयर रामशरण यादव, विधायक शैलेश पाण्डेय,विजय केशरवानी समेत अन्य प्रमुख कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *