मेरा बिलासपुर

शिक्षा सचिव से नटवर लाल की शिकायत

collector dwara task force ki baithak (2)बिलासपुर–मस्तुरी क्षेत्र के लोगो ने बडी संख्या में आज कलेक्टर कार्यालय पहुचकर नौकरी के नाम पर ठगे जाने की शिकायत की है। विडियो कांफ्रेंसिंग में शिक्षा सचिव बीएल अग्रवाल से बात करते हुए ग्रामीणो ने बताया कि  2013 में शिक्षाकर्मी के पद पर पदस्थ मनीष राव ने स्कूल में नौकरी लगाने के नाम पर गांव के बेरोजगारों से लाखों रुपए लिए लेकिन अभी तक किसी की नौकरी नहीं लगी है। ग्रामीणों ने बताया कि ठग ने चपरासी की नौकरी के लिए प्रभावित ग्रामीणों से लगभग डेढ़ लाख रूपये लिए हैं। शिकायत के बाद भी मस्तुरी पुलिस अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है। ग्रामीणों की गुहार पर शिक्षा सचिव और जन शिकायत प्रभारी शुक्ला ने कार्रवाई का आश्वान दिया है।

                          मस्तुरी क्षेत्र के सिरियाड़िह और छेछर गांव के लगभग एक दर्जन से अधिक लोग आज कलेक्टर से मिलकर थाना प्रभारी  एस.एन.घृतलहरे और ठग शिक्षाकर्मी की शिकायत की है। ग्रामीणों ने शिक्षा विभाग के सचिव से गुहार लगाते हुए कहा कि छेछर में शिक्षाकर्मी के पद पर पदस्थ मनीष राव ने उनसे नौकरी लगाने के नाम पर गांव के अलावा आस-पास के क्षेत्रों के बेरोजगार युवकों से और भोले भाले ग्रामीणो से लाखो रूपये ऐंठ लिया लेकिन अभी तक किसी की नौकरी नहीं लगाया है। फिलहाल आरोपी अभी रूपए लेकर फरार है।

                       ग्रामीणों ने बताया कि वे लोग अपने घर की जमा पूंजी नौकरी के लालच में मनीष राव को दे दी है। कुछ ने तो खेत बेचकर रूपए दिये हैं।  उनके पास न तो अब खाने के लिए पैसे है और न ही खेत।  जिसके चलते अब उनके सामने भूखे मरने की नौबत आ गई है। ग्रामीणो ने अग्रवाल से अपनी शिकायत में बताया कि पुलिस भी उनकी फरियाद को अनसुना कर रही है। शिक्षा सचिव ने ग्रामीणो की फरियाद सुनने के बाद कार्रवाई का आश्वासन दिया है ।

तालाब के मेढ़ पर मिली नवजात बच्ची की हालत गंभीर

               ग्रामीणो का आरोप है कि नौकरी लगाने का झांसा देकर मनीष राव ने नौकरी नहीं लगने की शर्त पर एक चैक भी दिया था। लेकिन दो लाख  चैक भी बाऊंस हो चुका है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS