शिवतराई को भारत सरकार का तोहफा..प्रधानमंत्री ने किया केन्द्रीय तीरंदाजी प्रशिक्षण केन्द्र खोलने का एलान..सांसद ने कहा..3 साल में 10 लाख खर्च

बिलासपुर –  सांसद अरूण साव ने शिवतराई में खेलो इंडिया योजना के तहत भारत सरकार की तरफ से तीरंदाजी प्रशिक्षण केंद्र खोले जाने के एलान का स्वागत किया है। अरूण साव ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने प्रशिक्षण केन्द्र को स्वीकृति देकर प्रतिभावान बच्चों के साथ न्याय किया है। सांसद ने तोहफा का स्वागत किया है।
 
                   सांसद अरुण साव ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि बिलासपुर में खेलो इंडिया योजना के तहत  राज्य स्तरीय सेंटर के बाद तीरंदाजी प्रशिक्षण केंद्र शिवतराई कोटा के रूप में खिलाड़ियों को प्रधानमंत्री ने बड़ा सौगात दिया है। युवाओं के भविष्य यह सेन्टर मील का पत्थर साबित होगा।
 
          अरूण साव ने बताय कि युवा एवं खेल मंत्रालय,भारत सरकार ने खेलो इंडिया योजना के तहत प्रदेश के विभिन्न जिलों में प्रचलित खेलो को बढ़ावा देने के लिए छत्तीसगढ़ में 7 नये  प्रशिक्षण केंद्रों की स्वीकृति प्रदान किया है। जिसमें कोटा स्थित शिवतराई  तीरंदाजी प्रशिक्षण केंद्र भी शामिल है।
 
                  शिवतराई तीरंदाजी के लिए पूरे देश में प्रसिद्ध है। यहां के खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनाकर जिला और प्रदेश का नाम रोशन किया है।  सांसद अरुण साव ने क्षेत्र में खेल सुविधाओं में विस्तार के लिए लगातार प्रयास करते रहे हैं। उसी का परिणाम है कि शिवतराई कोटा में तीरंदाजी प्रशिक्षण केंद्र को मंजूरी मिली है। सांसद अरुण साव ने बड़ी सौगात के लिए खिलाड़ियों को बधाई देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, युवा एवं खेल मंत्री अनुराग ठाकुर का आभार व्यक्त किया है। 
 
                          योजना अंतर्गत भारत सरकार से प्रथम वर्ष 10 लाख रुपये प्राप्त होगा। 5 लाख रुपये मैदान के लिए, 2 लाख रुपये खेल सामग्री और 3 लाख रूपये प्रशिक्षक की सेलरी में खर्च होगा। आने वाले तीन साल तक 5 लाख रुपये प्रतिवर्ष प्राप्त होगा। िसके बाद परिणाम के अनुसार इसे बढ़ाया जाएगा। केंद्र के प्रारंभ होने से खिलाड़ियों को बेहतर प्रशिक्षण प्राप्त होगा। सेन्टर के खिलाड़ी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर अपनी प्रतिभा दिखा सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *