हमार छ्त्तीसगढ़

सचिवों का स्कूल दौरा,ली बच्चों की क्लास

2659ccरायपुर।राज्य में चलाए जा रहे शिक्षा गुणवत्ता अभियान के तहत शनिवार को मुख्य सचिव सहित सचिव स्तर के अन्य अधिकारियों ने कई जिलों में पहुंचकर स्कूलों का निरीक्षण किया गया।शनिवार को मुख्य सचिव विवेक ढांड बेमेतरा जिले के विकासखण्ड बेरला के अंतर्गत ग्राम कंडरका पहुंचे। उन्होंने वहां पूर्व माध्यमिक शाला तथा प्राथमिक शाला के बच्चों से उनके अध्ययन-अध्यापन संबंधी बातचीत की और उनके विषय आधारित ज्ञान का मूल्यांकन किया। ढांड ने ग्रामवासियों तथा शाला विकास प्रबंधन समिति के सदस्यों को नियमित रूप से शाला का निरीक्षण करने और शाला के शैक्षणिक गतिविधियों पर निगरानी रखने के साथ ही अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए कहा।

                            ढांढ ने शिक्षकों को भी निर्देशित कि वे नियमित रूप से शाला आए और निर्धारित समय तक स्कूल का संचालन करें। उन्होंने कमजोर विद्यार्थियों के लिए अतिरिक्त कक्ष लगाकर उन पर विशेष ध्यान देने के निर्देश भी दिए। मुख्य सचिव ने बच्चों को समझाइश व मार्गदर्शन देते हुए नियमित रूप से शाला आने और पढ़ाई पर विशेष ध्यान देने के लिए कहा।

                            इस कड़ी में आज स्कूल शिक्षा विभाग के सचिव विकास शील ने बस्तर जिले का दौरा किया। उन्होंने वहां विकासखण्ड तोकापाल के प्राथमिक शाला धर्माउर तथा कस्तुरबा बालिका विद्यालय बस्तर का निरीक्षण किया।

                       अभियान के तहत जनसम्पर्क तथा संस्कृति एवं पर्यटन विभाग के सचिव संतोष मिश्रा ने सूरजपुर जिले के विकासखण्ड सूरजपुर अंतर्गत प्राथमिक शाला बसदई पहुंचकर बच्चों की बौद्धिक दक्षता का आंकलन किया। वहीँ जल संसाधन विभाग के सचिव गणेश शंकर मिश्रा ने डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम शिक्षा गुणवत्ता अभियान के तहत कबीरधाम (कवर्धा) जिले के पूर्व माध्यमिक शाला अमलीडीह का निरीक्षण किया। उन्होंने वहां बच्चों की कक्षाओं में जाकर उनके शैक्षणिक ज्ञान के स्तर को गहरायी से परखा।

VIDEO-अच्छी बारिश से किसानों के खिले चेहरे,अब तक 70 फीसदी से ज्यादा हुई बोनी,धान रोपाई करती महिलायें गा रही ख़ुशी के गीत

                     निरीक्षण के दौरान उन्होंने पूर्व माध्यमिक शाला के कक्षा आठवी के छात्रों से बातचीत की और उन्हें 11, 18 तथा 19 का पहाड़ा सुनाने के लिए कहा। इसके अलावा हिन्दी से अंग्रेजी तथा उसका संस्कृत में बच्चों से अनुवाद भी कराया। उन्होंने बच्चों से प्रश्न कर अंग्रेजी में वर्तमानकाल, भूतकाल तथा भविष्यकाल के बारे में जानकारी दी।

                  सचिव मिश्रा ने बच्चों से श्रीकृष्ण जन्माष्टमी मनाये जाने के बारे में भी पूछा। उन्होंने शिक्षकों से कहा कि वे पूरी गंभीरता तथा प्रतिबद्धता के साथ बच्चों को पढ़ाये, ताकि बच्चों का शैक्षणिक स्तर बढ़े। उन्होंने विद्यालय में लगातार गैर हाजिर रहने वाले विद्यार्थियों के अभिभावकों से सम्पर्क कर उन्हें विद्यालय अनिवार्य रूप से भेजने के लिए प्रेरित करने कहा।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS