सतत शिक्षा प्रदान करना शिक्षकों का कर्तव्य, ऑनलाइन कॉन्फ्रेंस में डीईओ बोले-नवाचारी तरीके से बच्चों को करे शिक्षित

बलौदाबाजार(मनीष जायसवाल)।मंगलवार को जिला शिक्षा अधिकारी बलौदा बाजार भाटापारा आर के वर्मा ने भाटापारा विकासखंड के प्रधान पाठकों की वेबेक्स ऑनलाइन कान्फ्रेंस समीक्षा बैठक आयोजत की थी बैठक में उन्होंने ने बताया कि आंदोलन की तर्ज पर सतत शिक्षा प्रदान करना सभी शिक्षकों का कर्तव्य है। इसके सभी शिक्षक  कार्य क्षेत्र में सतत पालक संपर्क कर   पालको से  सहयोग की अपील करते हुए सीमित समय अनुसार  ऑनलाइन क्लासेस में विद्यार्थियों को शामिल करने आग्रह करे और नवाचारी तरीकों से बच्चों को शिक्षित करने का प्रयास करें। 

 डीएमसी आर एस राव ने कांफ्रेस को सम्बोधित करते हुए विकासखंड के सभी शासकीय हाई /हायर सेकेंडरी स्कूलों के प्राचार्य एवं शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला और प्राथमिक शाला के प्रधान पाठकों की ऑनलाइन समीक्षा बैठक का विभिन्न सत्रों में आयोजन कर विकास खंड शिक्षा अधिकारी एवं नोडल अधिकारी द्वारा पढ़ई तुहर दुआर अभियान को अधिकाधिक सफल बनाने के लिए आवश्यक निर्देश देते हुए अन्य विभागीय विषयों पर चर्चा की गई। 

ऑनलाइन कान्फ्रेंस समीक्षा बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी ने छत्तीसगढ़ शासन के निर्देश पर जिले के सभी स्कुली बच्चों में वैज्ञानिक दृष्टिकोण और प्रवृत्तियों को विकसित करने के लिए इंस्पायर अवार्ड मानक योजना में जिले के सभी विकास खंड के सभी संकुल एवं हाईस्कूल और हायर सेकेंडरी स्तर पर विद्यार्थियों की भागीदारी सेब मॉडल बनाने हेतु पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के लिए एससीईआरटी रायपुर से ई मीटिंग कर निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा  सुपोषण अभिवृद्धि हेतु शालाओं में मुनगा पौध रोपण का जो  विशेष  अभियान शुरू किया गया है। उसकी जानकारी साझा की गई।

विकास खंड शिक्षा अधिकारी अमरसिंह घृतलहरे ने बताया कि कोरोना संकट से शिक्षण सत्र का संस्थागत संचालन आरंभ नहीं हो सका है। ऑनलाइन क्लासेज का संचालन सभी शिक्षकों द्वारा किया जाना है। जिला/ विकासखंड एवं संकुल स्तर पर विभिन्न स्तरों से समीक्षा  करते हुए सभी शिक्षकों को अधिक से अधिक बच्चों को जोड़कर सुविधा अनुसार समय सारणी बनाते हुए ऑनलाइन शिक्षा देने के लिए अभिप्रेरित किया जा रहा है।संकुल स्तर पर विकासखंड के सभी संकुल में शिक्षकों को ऑनलाइन कान्फ्रेंस में जोड़कर ऑडियो वीडियो प्रेजेंटेशन एवं की पैड मोबाइल धारी पालकों को फ्रीकॉन्फ्रेंसकॉल डॉट कॉम के माध्यम से क्लासेस लेने की जानकारी दी जा रही है।

अधिकारी अमरसिंह घृतलहरे ने बताया कि शिक्षकों की त्रिदिवसीय प्रशिक्षण एवं परिचर्चा अंतर्गत विगत दिवस मेन हिंदी संकुल हथनीपारा संकुल, लाल बहादुर शास्त्री शाला संकुल खोखली संकुल,देवरी संकुल के समन्वयक श्री लेख राम साहू, मुकेश देवांगन, भूपेश साहु,श्री दुर्गेश शर्मा,श्री टिकेश्वर वर्मा ने ऑनलाइन क्लासेज के संचालन के संबंध में शिक्षकों को जानकारी देते हुए आवश्यक प्रशिक्षण दिया। इसी क्रम में 7 जुलाई को कोटमी, टोनाटार एवं मल्दी करहीबाजार,गुर्रा संकुल के संकुल समन्वयक श्री कृपाराम गोंड़, चंचल साहु , कमल ध्रुव  अखिलेश गिरी गोस्वामी एवं  रविंद्र पाठक द्वारा संकुल की शालाओं के शिक्षकों से ऑनलाइन क्लासेज के संबंध में चर्चा कर आवश्यक जानकारी दी गई एवं दिनांक 8 जुलाई को सुरखी, धनेली, निपनिया, सिंगारपुर,दतरेंगी संकुलों की शालाओ के सभी शिक्षको से  ऑनलाइन कांफ्रेंस के माध्यम से पढई तुंहर दुआर अभियान सम्बंधी परिचर्चा की जावेगी। 

विकासखंड नोडल अधिकारी भास्कर देवांगन द्वारा बताया गया प्रति सप्ताह निर्धारित दिवस पर सभी संकुलो में ऑनलाइन समीक्षा बैठक के पश्चात विकासखंड स्तर पर समीक्षा बैठक आयोजित की जाएगी। राज्य कार्यालय के निर्देशानुसार विकासखंड में तीस प्रोफेशनल लर्निंग कमेटियों का गठन किया गया है। हाई स्कूल एवं हायर सेकेंडरी स्तर के शालाओं के प्राचार्य इन समितियों के प्रमुख बनाये गए है। प्रत्येक पीएलसी समिति में निकटस्थ  6 से 10 विद्यालयों के सभी शिक्षक गण शामिल होगे जो गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की  सुलभता सुनिश्चित करने हेतु  संकुल व्यवस्था के साथ सतत कार्य करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *