मेरा बिलासपुर

सबके साथ से होगा सबका विकास

collector visav viklan divsh nehru nagar samudaik bhavan me (9)बिलासपुर–निःशक्तों एवं विशेष आवश्यकता वाले लोगों को आगे बढ़ाना, उनमें जीवन की चुनौतियों का सामना करने के लिए आत्मविश्वास जगाना हम सभी सामान्य व्यक्तियों का दायित्व है। सभी की उंगलियां बराबर नहीं होती। लेकिन सबका अपना महत्व है। हमारे समाज भी सभी वर्गों का अपना महत्व है। जब तक हम एक दूसरे के साथ मिलकर नहीं चलेंगे। तब तक हमारा समग्र विकास मुश्किल है। यह बातें  कलेक्टर  अन्बलगन पी. ने आज विश्व विकलांग दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में कही।

                            नेहरू नगर के सामुदायिक भवन में आयोजित उक्त कार्यक्रम में उपस्थित निःशक्त बच्चों को संबोधित करते हुए कलेक्टर ने कहा कि आज की दुनिया जैसे रेस की तरह चल रही है। हम सभी दौड़ रहे हैं। किसी के पास पीछे मुड़कर देखने का समय नहीं है। ऐसे माहौल में समाज के कमजोर और निःशक्त बच्चे  के कल्याण के लिए सोच रखना प्रशंनीय है। हाथ की सभी उंगलियां बराकर नहीं होती। लेकिन सभी का अपना महत्व है। समाज के सभी वर्ग के लोगों का अपना-अपना महत्व है। ईश्वर ने कुछ निश्चित कारणों के साथ सबको दुनिया में भेजा है। इसमें हमारे निःशक्त भाई बहन भी शामिल हैं। इसलिए हम सबको एक साथ एक दूसरे का  विश्वास बढ़ाते हुए आगे बढ़ना है।

                           अपने उपर विश्वास है तो हर एक कार्य कर सकते हैं। कलेक्टर ने कहा कि निःशक्तों के लिए संचालित शासन की योजनाएं एक सहारा है। इस सहारे का उपयोग कर वे आगे बढ़े। उन्होंने सद्भावना मंच के प्रयासों की भी सराहना की। कलेक्टर ने उपस्थित बच्चों से आत्मविश्वास के साथ आगे बढ़ने और चुनौतियों नहीं घबराने की बात कही।

नव नियुक्त पुलिस कप्तान पारूल माथुर औचक पहुंची महिला थाना..पुरूष बल तैनात का दिया निर्देश ..iucaw कार्यालय का भी किया भ्रमण..

             कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि साहित्यकार राजेन्द्र मौर्य ने कहा कि सामाजिक कल्याण के कार्यक्रमों में सभी की जागरूकता के साथ सहभागिता होनी चाहिए।

             इस अवसर पर समाज कल्याण विभाग ने 8 निःशक्तों को ट्रायसायकल वितरण के साथ-साथ निःशक्त पूजा ठाकुर को व्हील चेयर और तुलई दास को श्रवण यंत्र कलेक्टर के हाथों प्रदान किया गया। बिजली विभाग में कार्यरत निःशक्त कम्प्यूटर आपरेटर हीरामणि देवांगन को उनकी कार्य के प्रति निष्ठा  के लिए कलेक्टर ने सम्मानित किया।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS