मेरा बिलासपुर

कलेक्टर ने बनाया अधिकारियों पर दबाव

rajsav nirkhak adhikario ki baithak collector dwara (1)बिलासपुर—कलेक्टर अन्बलगन पी ने आज मंथन सभाकक्ष में जिले के राजस्व अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने मनरेगा के तहत् रोजगारमूलक कार्य चिन्हित कर तत्काल कार्य प्रारंभ कराने का निर्देश दिया। कलेक्टर ने राजस्व प्रकरणों के समाधान में तेजी लाने साथ ही तहसील स्तर के प्रकरणों को लंबित न रखने का निर्देश दिया। तहसील में स्थायी जाति प्रमाण पत्र बनाने के कार्यवाही करने सहित राजस्व विवाद मुक्त ग्राम बनाने का निर्देश दिया।

                              कलेक्टर ने कहा कि पंचायत एवं ग्रामीण विकास के आदेशानुसार मनरेगा अंतर्गत रोजगार मूलक कार्य कराये जायेंगे। नहर लाईनिंग, सूखे जल स्त्रोत की सफाई, सड़क निर्माण, जलसंचय, चेकडेम निर्माण, तालाब खुदाई इस प्रकार के कार्यों को तत्काल चिन्हित कर समयावधि में कार्य प्रारंभ कराने को  कहा। साथ ही कराये गये कार्यों की मजदूरी का भुगतान नियमानुसार करने को कहा।  इसके अलावा क्षेत्र में ज्यादा से ज्यादा रेत खदान खोलने की कार्यवाही करने का भी निर्देश दिया।

            कलेक्टर ने अधिकारियों को राजस्व प्रकरण का निराकरण समय-सीमा में करने के साथ ही प्रत्येक माह में समीक्षा की बात कही।  उन्होंने स्पष्ट किया कि प्रत्येक शनिवार को रोस्टर के अनुसार किसी एक तहसील में जाकर निरीक्षण किया जायेगा। राजस्व अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली जायेगी। आर.आई., तहसीलदार के साथ सीमांकन एवं बटवारा नामांकन प्रकरणों की जांच भी होगी।

                   कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि अनुसूचित जनजाति वर्ग के लोगों की भूमि गैर अनुसूचित जनजाति वर्ग के लोगों को क्रय न किया जाये। उन्होंने सभी एसडीएम को निर्देशित किया कि चारागाह को छोड़कर पहाड़ चट्टान के स्थानों को खनिज हेतु अनुमति प्रदान करे। शहर के जमीनों को नापजोख की कार्यवाही  को गंभीरता से लेने को कहा।

प्राचीन ऐतिहासिक मूर्ति बरामद..चार आरोपी गिरफ्तार.. ग्राहक बनकर पुलिस ने आरोपियों को ऐसे पकड़ा..पुलिस कप्तान पारूल माथुर ने कहा..पांचवा जल्द पकड़ा जाएगा

                     बैठक में कलेक्टर ने बताया कि कि ग्राम मोहन भाठा में 472 एकड़ भूमि में सर्वें कराया जाना है।  भूमि को सेन्ट्रल कमाण्डों को दिया जाना प्रस्तावित है। उन्होंने ने रिकार्ड को दुरूस्त रखने के साथ भूमि की जांच करने को कहा। कलेक्टर ने प्रत्येक शासकीय कार्य का चेक लिस्ट बनाने और समय-सीमा में प्रकरण की सुनवाई करने को कहा।

                                     राशन कार्डों के परीक्षण पश्चात् पात्र हितग्राहियों को कार्ड उपलब्ध कराने के साथ ही आम लोगों को  किसी प्रकार की शिकायत आने पर कार्यवाही की जाने की भी बात कलेक्टर ने कही।

            बैठक में अपर कलेक्टर नीलकण्ठ टेकाम,  निर्मल तिग्गा,  सोरी, नजूल अधिकारी  एस. पी. वैद्य, एसडीएम क्यू.ए. खान सहित जिले के अन्य राजस्व अधिकारी उपस्थित थे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS