सामुहिक के बाद प्रत्याशियों की जिलेवार बैठक..सभी जिला अध्यक्ष हुए शामिल..नेताओं ने कहा इंजीनियरों पर रखें नजर

बिलासपुर—बुधवार को प्रदेश कांग्रेस कार्यालय राजीव भवन रायपुर में प्रदेश के सभी जिला, शहर कांग्रेस अध्यक्षों के अलावा जिला समेत दिग्गज नेताओं के साथ प्रत्याशियों की बैठक होगी। वरिष्ठ नेताओं ने बैठक के दौरान एक-एक प्रत्याशियों से मतदान और कैम्पेनिंग के दौरान सारी घटनाक्रम को लेकर विस्तार से चर्चा की। मतगणना की स्थिति और परिस्थितियों पर विचार विमर्श किया गया। जिला शहर कांग्रेस अध्यक्ष विजय केशरवानी ने बताया कि बैठक में दिग्गज नेता पुनिया, बघेल, सिंहदेव,चरणदास महंत के अलावा अन्य वरिष्ठ नेता खासतौर पर मौजूद थे।

              रायपुर स्थित पीसीसी कार्यालय राजीव भवन में जिला और शहर कांग्रेस अध्यक्षों के अलावा जिलेवार प्रत्याशियों की बैठक हुई। जिला कांग्रेस बिलासपुर अध्यक्ष विजय केशरवानी ने बताया कि बैठक दो अलग अलग चरणों में हुई। पहले प्रदेश के सभी प्रत्याशियों और जिला अध्यक्षों की बैठक हुई। इसके बाद जिलेवार शहर और जिला ग्रामीण अध्यक्षों के साथ प्रत्याशियों से दिग्गज नेताओं ने बातचीत की। यद्यपि बैठक में क्या कुछ बातचीत हुई…विजय केशरवानी ने स्पष्ट तो नहीं बताया उन्होने जरूर कहा कि इस दौरान दिग्गज नेताओं ने मतगणना को लेकर 19 बिन्दुओं पर विस्तार से जानकारी दी है।

                 विजय केशरवानी ने बताया कि वरिष्ठ नेताओं ने निर्देश दिया है कि मतगणना के दौरान किस प्रकार की सावधानी की जरूरत है। मतगणना के समय एजेन्ट को क्या क्या जानकारी होनी चाहिए। मशीन की निगरानी और सावधानी किस तरह हो…किस तरह मतगणना के एक एक पल पर विशेष नजर रखी जाए।

                     इस बताया गया कि सबी एजेन्ट को टेबल नम्बर बैच एलाट किया जाएगा। बैच पर प्रत्याशी का सिग्नेचर होगा। सभी निर्वाचन अभिकर्ता, एआरओ और गणना अभिकर्ता नीले रंग की पुस्तक का जरूर अध्ययन करें। पु्स्तक प्रत्याशी को फार्म भरने के दौरान मिली है। नीले रंग की पुस्तक के पेज नम्बर 109 के क्रमांक 123 की दो तीन सेट फोटो कापी हमेशा साथ रखेंगे।

                मतगणना प्रक्रिया वीडियोग्राफी जरूरी है। वीडियोग्राफी निर्वाचन अधिकारी के पास रखा जाएगा। मतगणना के बाद जरूरत पड़ने पर वीडियोग्राफी की प्रमाणित प्रति ले सकेंगे। प्रत्येक अभ्यर्थी को अपने नाम विधानसभा  प्रत्याशी को एक रबर मोहर बनाकर रखना जरूरी है।

                     बैठक के दौरान बताया गया कि मतगणना के दौरान सबसे पहले डाकमत पत्रों की गिनती होगी। डाक मत पत्रों के बाहरी लिफाफे पर क्यूआर कोड को स्कैन किया जाता है। इसकी जांच भी होती है। इसके बारे में नीले रंग की पुस्तक में स्पष्ट जानकारी दी गयी है।

              बैठक में बताया गया कि स्ट्रांग रूम में ईव्हीएम के देखरेख करने वाले इंजीनियरों की फोटोयुक्त सूची की जरूर मांग करें। नियुक्त इंजीनियरों पर नजर रखें। लेकिन बार बार निर्वाचन अधिकारी के पास ना जाएं।

            वरिष्ठ नेताओं ने बैठक में कहा कि यदि व्हीव्हीपैट और ईव्हीएम की गिनती में एक भी वोट का अन्तर आता है तो व्हीव्हीपेट पर्चियों की गिनती का आवेदन जरूर करें।

पहले सामुहिक फिर अलग-अलग बैठक

                  विजय केशरवानी ने बताया कि रायपुर स्थित राजीव भवन में पहले चरण में प्रदेश के सभी प्रत्याशियों और जिला अध्यक्षों की सामुहिक बैठक हुई। इसके बाद जिलेवार सभी अध्यक्षों के साथ प्रत्याशियों की बैठक हुई। इस दौरान जरूरी दिशा निर्देश दिए गए। क्या भितरघातियों को लेकर भी चर्चा हुई। इस बारे में विजय केशरवानी ने कहा कि बैठक में इस तरह की कोई बात सामने नहीं आयी है।

              विजय ने बताया कि बैठक में बिलासपुर से शेख गफ्फार,शैलेन्द्र जायसवाल,शेख नजरूद्दीन,समेत वरिष्ठ कांग्रेसी भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *