सिम्सःडिलेवरी के लिए नर्स ने मांगा दो हजार

cimsबिलासपुर– सिम्स में गरीबों का जमकर दोहन किया जा रहा है। उपचार के नाम पर रुपये मांगे जा रहे हैं। हमेशा की तरह सिम्स प्रबंधन अपनी गलतियों पर इस बार भी पर्दा डालने का नाकाम प्रयास किया  है। बावजूद इसके मामला सिम्स के डीन तक पहुंच गया है।

                       जानकारी के अनुसार 1 फरवरी की शाम को एक महिला ने सिम्स के गायनिक वार्ड में जुडवा बच्चो को जन्म दिया। डॉक्टर ने बेहतर  उपचार के लिए परिजनो से दो हजार रुपये लिए। फरियादी ने गायनिक वार्ड के एचओडी से शिकायत कर जमकर हंगामा मचाया। डीन ने डॉक्टर और नर्स को बुलाकर पूछताछ के बाद मामले को दबाने का प्रयास किया है।

                     रतनपुर मोहदा निवासी पिंकी को 30 जनवरी को लेबर पेन के बाद सिम्स के गायनिक वार्ड में दाखिल कराया। महिला ने जुड़वा बच्चियो को जन्म दिया। पिंकी के पति नरेन्द्र ने बताया कि सिम्स स्थित लेवर ओटी की नर्स शशि और अनुजा ने उससे डिलवरी के नाम पर दो हजार रुपये मांगे। नर्सों ने रूपये नहीं देने पर उपचार नही करने की धमकी भी दी । डरकर उसने नर्सों को दो हजार रुपये दिये।

                            नरेन्द्र के अनुसार डिलवरी के बाद प्रभारी एमएस रविकांत दास और गायनिक वार्ड एचओडी मीना आरमो से  रुपये मांगने की शिकायत की। मामले में रवि कांत दास ने कार्रवाई का आश्वासन दिया। शिकायत करने के बाद जब वह गायनिक वार्ड पहुंचा तो दोनो नर्से पत्नी और उसके साथ झगड़ा करने लगी। साथ ही नवजात बच्चियों को लेकर धमकी भी दी।

                      परेशान नरेन्द्र ने इसकी शिकायत  डीन विष्णु दत्त से की। उन्होने सिम्स उप-अधीक्षक रविकांत दास को मामले को गंभीरता से लेते हुए मौके पर जाने को कहा। दोनो नर्सो को डीन ने आफिस में भी बुलाया  लेकिन दोषियों पर अभी तक  कार्रवाई नहीं हुई है।

               वहीं मामले में उप सिम्स अधीक्षक रविकांत दास ने पत्रकारों से बताया कि परिजनो की शिकायत को गंभीरता के साथ लिया जा रहा है।  जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *