सिम्स पर इंटरनी को बचाने का आरोप

cimsबिलासपुर— गणतंत्र दिवस के ठीक दो दिन पहले 24 जनवरी को सिम्स के इंटरनी डॉक्टर ने अपने सिनियर डॉक्टर की प्रेम प्रसंग के चलते पीटाई कर दी थी। हमले में घायल छात्र को उपचार के लिए आईसीसीयू में दाखिल कराया गया था। पुलिस ने सिम्स प्रबंधन और घायल के परिजनो की शिकायत पर एफआईआर दर्ज किया था। तीन दिन बीत जाने के बाद भी जूनियर इंटरनी डॉक्टर को गिरफ्तार नहीं किया गया है। सिम्स प्रबंधन के अनुसार आरोपी युवक को हॉस्टल से निष्कासित कर दिया गया है।

                           प्रेम प्रसग के चलते सिम्स में सिनियर और जूनियर डॉक्टर आपस में भिड गये थे। दोनो पक्षो के बीच विवाद इतना बढा कि एमबीबीएस तृतीय सेमेस्टर के छात्र दीपक नेहरा ने कमरे में घुस कर अपने सिनियर  अतुल मिश्रा की पिटाई कर दी। अतुल के नाक और गले में गंभीर चोटे आयी थी। कोतवाली पुलिस ने बीच बचाव करवाते हुए तात्कालीन समय मामला शांत करवाया।

                          दूसरे दिन अतुल के पिता महानंद मिश्रा और भाई रजनीश मिश्रा ने मामले में सिम्स प्रबंधन पर दीपक नेहरा को बचाने का गंभीर आरोप लगाते हुए मामले की शिकायत थाने मे की। एफआईआर के बाद से दीपक नेहरा फरार है। पुलिस ने आज सुबह सिम्स आईसीसीयू में भर्ती अतुल मिश्रा से बयान लिया है।

                   पुलिस के अनुसार आरोपी छात्र फरार है उसकी तलाश हो रही है। सिम्स के डीन विष्णु दत्त ने बताया कि दीपक नेहरा को हॉस्टल से निष्कासित कर दिया गया है। डीन का कहना है कि मामले की जांच के लिए प्रबंधन ने एक टीम का गठन किया है। रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *