मेरा बिलासपुर

सिरगिट्टी स्वास्थ्य केन्द्र आया से जानलेवा मारपीट..अपराध दर्ज..होगी गिरफ्तारी

बिलासपुर—-सिरगिट्टी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में आया की काम करने वाली महिला के साथ स्टाफ के लोगों ने मारपीट की है। पीड़ित महिला उत्तरा दुबे का साथ गला दबावकर जान से मारने का प्रयास किया गया है। महिला की शिकायत पर एफआईआर दर्ज किया गया है। थाना प्रभारी यूएनशांत कुमार ने बताया कि पीड़िता ने पहले भी एफआईआर दर्ज कराया। घटना के बाद दूसरा एफआईआर भी दर्ज किया गया है। आरोपियों की जल्द से जल्द धरपकड़ होगी।

                    गुरुवार को सिरगिट्टी स्वास्थ्य केन्द्र में आया उत्तरा दुबे को जान से मारने का प्रयास किया गया है। महिला की शिकायत पर पुलिस ने विभिन्न धाराओं के तहत अपराध किया है। महिला ने अपनी शिकायत में बताया है कि 10 जून को हमेशा की तरह सुबह 8 बजे काम पर स्वास्थ्य केन्द्र गयी। स्टाफ की महिला रजनी सूर्यवंशी ने पुरानी एफआईआर को वापस लेने के लिए दबाव बनाया। साथ ही उसने धमकी दी कि यदि एफआईआर वापस नहीं ली तो पुलिस से डंडा मरवाएगी।

                 उत्तरा दुबे ने एफआईआर में दर्ज कराया है कि 11 जून को हमेशा की तहर सुबह 8 बजे स्वास्थ्य केन्द्र गयी। स्वास्थय केन्द्र पहुंचते ही प्रभा मिश्रा और अरूणा सिंस ने पूर्व में किए गए एफआईआर को वापस लेने फिर दबाव बनाया। एफआईआर वापस नहीं लिए जाने की बात कहते ही दोनों बाल पकड़कर घसीटा। और लात घूंसा से मारना पीटना शुरू कर दिया। इसके बाद दोनों ने गला दबाकर जान से मारने का प्रयास भी किया। थाना प्रभारी यूएनशांत साहू ने बताया कि महिला को शरीर में बहुत चोट पहुंची है। उसने धमकी और मारपीट किए जाने की पहले भी अपराध दर्ज करायी है। महिला की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर मुलायजा के लिए सिम्स भेजा गया। सिम्स की रिपोर्ट में बताया गया है कि महिला का गला दबाया गया है।  

कोरोना संक्रमण:मुंगेली जिला पहले नंबर की ओर,23 नए मामले,कुल 66 एक्टिव केस के बाद रेड जोन घोषित

             यूएन शांत साहू ने कहा कि उत्तरा दुबे की शिकायत पर धारा 294, 323, 506, 34 के अपराध दर्ज किया गया है। सिम्स रिपोर्ट मिलने पर अन्य धाराए भी जोड़ी जाएंगी।

क्या है मारपीट और पुराना एफआईआर का मामला

                बताते चलें कि विधवा उत्तरा दुबे सिरगिट्टी में अल्प वेतन पर आया का काम करती है। उसका एक बच्चा भी है। दोनों पीडब्लडी की एक जर्जर मकान में रहते हैं। सिरगिट्टी स्वास्थ्य केन्द्र के पुराने प्रभारी ने जर्जर भवन को मरम्मत कर रहने की व्यवस्था की थी। वर्तमान स्वास्थ्य केन्द्र प्रभारी संतोष सिंह और उसकी पत्नी रजनी सूर्यवंशी उत्तरा को जर्जर भवन छोड़ने को लेकर दबाव बनाया। ऐसा नहीं करने पर दोनों ने उत्तरा दुबे के साथ मारपीट की। उत्तरा दुबे ने सिरगिट्टी थाना पहुंचकर मारपीट को एफआईआर दर्ज कराया। अब एफआईआर को वापस लेने स्वास्थ्य केन्द्र का स्टाफ आया प्रभा मिश्रा, नर्स अरूणा सिंह और आएमए रजनी सूर्यवंशी ने संतोष के इशारे पर 11 जून को जानलेवा मारपीट की है।

होगी गिरफ्तारी…थाना प्रभारी

                   मामले में सिरगिट्टी थाना प्रभारी यूएन शांत साहू ने बताया कि उत्तरा दुबे ने आरोपियों के खिलाफ पहले भी शिकायत की थी। एक दिन पहले सभी ने मिलकर जानलेवा हमला किया है। महिला की शिकायत को दर्ज किया गया है। अब जल्द ही सभी की गिरफ्तारी होगी। जान से मारने की धारा भी एफआईआर में जोड़ा जाएगा।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS