हमार छ्त्तीसगढ़

सीएम से दिलाया भरोसा , फेडरेशन का धरना आंदोलन स्थगित

bharosa

रायपुर ।   मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से गुरूवार को  यहां उनके निवास कार्यालय में सकारात्मक और सौहार्द्रपूर्ण बातचीत के बाद छत्तीसगढ़ अधिकारी-कर्मचारी फेडरेशन ने 2 अक्टूबर से प्रस्तावित अपना धरना आंदोलन स्थगित करने की घोषणा की। उल्लेखनीय है कि फेडरेशन द्वारा राजधानी रायपुर के बूढ़ातालाब के सामने धरना स्थल पर अपना यह धरना आंदोलन 2 अक्टूबर से 7 नवम्बर तक आयोजित किया जाने वाला था।

मुख्यमंत्री से आज दोपहर फेडरेशन के प्रतिनिधि मंडल ने सौजन्य मुलाकात कर अपनी विभिन्न मांगों के संबंध में विचार विमर्श किया। उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया कि विगत 27 अगस्त को फेडरेशन के आव्हान पर हुए प्रदेशव्यापी आंदोलन में शामिल कर्मचारियों के एक दिन के आकस्मिक अवकाश को सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा अवैतनिक करते हुए ब्रेक-इन -सर्विस का आदेश जारी किया गया है। उन्होंने मुख्यमंत्री से इस आदेश को कर्मचारियों के हित में निरस्त करवाने का आग्रह किया। प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री से राज्य सरकार के वर्ष 2013 के घोषणा पत्र में शामिल कर्मचारी हितैषी विभिन्न घोषणाओं को जल्द लागू करने का भी अनुरोध किया, जिनमें चार स्तरीय क्रमोन्नत वेतनमान आदि शामिल हैं। मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधि मंडल की सभी मांगों पर सहानुभूति पूर्वक विचार करने का आश्वासन दिया। उन्होंने प्रतिनिधि मंडल से कहा कि इस संबंध में मुख्य सचिव को आवश्यक निर्देश दिये जाएंगे। प्रतिनिधि मंडल में छत्तीसगढ़ कर्मचारी-अधिकारी फेडरेशन के संयोजक  सुभाष मिश्रा,राज्य कर्मचारी संघ छत्तीसगढ़ के प्रदेश अध्यक्ष  वीरेंद्र नामदेव सहित शिक्षक संघ के  यशवंत सिंह वर्मा, राजपत्रित अधिकारी संघ के  कमल वर्मा, शिक्षक फेडरेशन के  राजेश चटर्जी, डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ के  सुरेन्द्र टुटेजा, शिक्षक कांग्रेस के  अनिल शुक्ला, लिपिक संघ के  संजय सिंह, प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के  पीआर यादव, स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के  ओपी शर्मा, कर्मचारी कांग्रेस के  बी.पी. शर्मा, वन कर्मचारी संघ के  सतीश मिश्रा, प्रदेश शिक्षक संघ के  कुशल कौशिक, तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ के  चंद्रशेखर तिवारी, बहुउद्देशीय स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के  सरित मिश्रा और पटवारी संघ के  कमलेश राजपूत भी शामिल थे।
 

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS