मेरा बिलासपुर

सीजेसीजे का धरना प्रदर्शन..भाजपा के तीखे बोल

IMG-20170203-WA0706बिलासपुर— मस्तूरी के जोंधरा चौक में आज जनता कांग्रेस छत्तीसगढ जोगी पार्टी कार्यकर्ताओं ने धरना प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने प्रदेश सरकार और जिला प्रशासन पर देवगांव में बलात्कार और हत्या के आरोपी को बचाने का आरोप लगाया है। आरोपियों को गिरफ्तारी की मांग करते हुए जोगी कार्यकर्ताओं ने कहा कि कांग्रेस पार्टी विपक्ष में रहकर सरकार का साथ दे रही है। यही कारण है कि दलितों और आदिवासियों के साथ अपराध बढ़ गया है।

                                         अनिल टाह,संतोष कौशिक और मलिकराम डहरिया की अगुवाई में आज जनता कांग्रेस छत्तीसगढ पार्टी ने जोंधरा चौक में धरना प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने कहा कि प्रदेश में अपराधियों का बोलबाला है। दलितो,आदिवासियों के साथ अन्याय हो रहा है। सरकार और प्रशासन हाथ पर हाथ रखकर बैठी है। अनिल टाह और संतोष ने संतोष ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी ने अभी तक देवगांव में मासूम बच्ची के आरोपियों को पकड़वाने किसी प्रकार का प्रयास नहीं किया। ना तो धरना किया और ना ही विपक्ष में रहते हुए आरोपियों के खिलाफ सरकार पर दबाव ही बनाया।

            जोगी पार्टी के नेता अनिल टाह ने कहा कि भाजपा के शासन काल में महिलाएं सुरक्षित नहीं है। अपराधियों को सरकार से संरक्षण मिला हुआ है। 27 दिन बाद भी देवगांव में बलात्कार और हत्या के आरोपियों को पुलिस पकड़ने में नाकाम साबित हुई है। कांग्रेस ने भी पीड़ित परिवार के समर्थन में कोई कदम नहीं उठाया है।

                      टाह ने कहा कि जनता में भयंकर आक्रोश है। साल 2018 में बिहार की तरह छत्तीसगढ की जनता वर्तमान सरकार को उखाड़ फेंकेगी। प्रदेश में जोगी की सरकार बनेगी।

जमीन विवाद में मारपीट...इलाज के दौरान व्यक्ति की मौत..पत्नी कोमा में

जनता को रिझाने की कवायद

                       धरना प्रदर्शन के खिलाफ भाजपा नेताओं ने कहा कि जोगी ने हमेशा की तरह राजनीति के स्तर को गिराया है। मौत और बलात्कार पर राजनीति अच्छी बात नहीं है। पुलिस काम कर रही है। आरोपी जरूर पकड़े जाएंगे। भाजपा नेता ने कहा कि यह सब जनता को भ्रमित करने का काम करने का काम है। जनता जानती है कि जोगी के शासनकाल में क्या कुछ नहीं हुआ। आदिवासियों और दलित समाज के खिलाफ जमकर अत्याचार किया गया। दरअसल जोंधरा में धरना प्रदर्शन स्थानीय लोगों का महज प्रयास है। लेकिन स्थानीय लोग अच्छी तरह जानते हैं कि धरना प्रदर्शन के बहाने क्या कुछ किया जा रहा है और क्यों किया जा रहा है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS