मेरा बिलासपुर

सीवीआरयू के पंथी-कर्मा को मिला खिताब

yuvautsavबिलासपुर। डॉ.सी.वी.रामन् विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों ने एआईयू सेंट्रल जोन के युवा उत्सव कलरव-2015 में अपनी प्रतिभा का जौहर दिखाते हुए सफलता का परचम लहराया है। विद्यार्थियों ने झांसी केबुंदेलखंड विश्वविद्यालय में आयोजित युवा उत्सव की प्रतियोगिता में पुरस्कार जीते हैं। इनमें कल्चलरपरेड में प्रदर्शन करने के लिए द्वितीय और क्वीज कांटेस्ट में तृतीय पुरस्कार प्रदान किया गया है। इंटरयूनिवर्सिटी प्रतियोगिता में पुरस्कार जीतकर लौटे सीवीआरयू के विद्यार्थी उत्साहित हैं।हर साल की तरह इस साल भी सेंट्रल जोन में शामिल विश्वविद्यालयों का युवा का आयोजन किया गया।सेंट्रल जोन में देश के 30 विश्वविद्यालय शामिल होते हैं।

यह युवा उत्सव इस वर्ष बुदेलखंडविश्वविद्यालय में आयोजित किया गया। इस अवसर पर अनेक प्रतियोगिताएं हुई। जिसमें इस वर्ष केयुवा उत्सव में देश के 22 विश्वविद्यालयों के प्रतिभावान विद्यार्थियों ने अपनी कला और ज्ञान का प्रदर्शन किया। जिसमें हमारे विश्वविद्यालय की 30 सदस्यी टीम बुंदेलखंड विश्वविद्यालय में शामिल हुई। युवा उत्सव कलरव-2015 के कल्चलर परेड में सीवीआरयू के विद्यार्थियों ने पंथी और कर्मा नृत्य की शानदार प्रस्तुति दी, जिसमें सीवीआरयू को द्वितीय पुरस्कार प्रदान किया गया है। इसमें 22 विश्वविद्यालयों ने अपने क्षेत्र की लोककला और संस्कृति को दिखाया। इसमें छत्तीसगढ़ी पंथी और सरगुजिया कर्मा नृत्य परंपरा को विशेष रूप से बताया गया। पारंपरिक वेशभूषा में सजे विद्यार्थी के माध्यम से हमारे छत्तीसगढ़ अंचल के बारे में लोगों ने जाना। इसी तरह क्वीज प्रतियोगिता में विश्वविद्यालय को तृतीय पुरस्कार प्रदान किया गया है। क्वीज कांटेस्ट में कमलजीत चावला, प्रियंका झा और विवेक की तीन सदस्यी टीम में एक के बाद एक सही सवालों के झड़ी लगा दी। इस संबंध में जानकारी देते हुए विश्वविद्यालय में एआईयू के समन्वयक डॉ. पी.के.नायक ने बताया कि ऐसे आयोजनों के माध्यम से देश के अनेक राज्यों की धर्म-कला और संस्कृति को सबसे सामने रखने का अवसर मिलता है।

निरंतर सफलता से ही रचता है इतिहास-डॉ.दुबे इस अवसर पर विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलपति डॉ.आर.पी.दुबे ने विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों को बधाई देते हुए कहा कि सफलता का क्रम लगातार चलते रहना चाहिए,तभी एक दिन यह इतिहास गढ़ता है। यह क्रम बीते कुछ साल से चला आ रहा हैं। हमारे विद्यार्थी एआईयू के युवा उत्सव में भाग लेकर पुरस्कार जीत कर आते है। हर वर्ष एक नए उत्साह, जोश, जुनुनु और सब कुछ कर गुजरने का जब्बा लिए विद्यार्थी युवा उत्सव में शामिल होते है। डॉ. दुबे ने उम्मीद जताते हुए कहा कि यह सिलसिला अनवरत जारी रहेगा और विश्वविद्यालय एक दिन इतिहास रचेगा। डॉ. दुबे ने सभी को शुभकामनाएं दी।

पर्यावरण प्रदूषणः चुनौती और निराकण पर दिग्गजों की राय

cvr shail newउम्मीदों में खरे उतरे विद्यार्थी-कुलसचिव

                                     इस अवसर पर डॉ.सी.वी.रामन् विश्वविद्यालय के कुलसचिव शैलेष पाण्डेय ने हर्ष व्यक्त करते हुएकहा कि सीवीआरयू के विद्यार्थी हमारी उम्मीदों में खरा उतरे हैं। इसके लिए विद्यार्थियों ने मेहनत की थी और आने वाले समय में करते भी रहेंगे। पुरस्कारों से विद्यार्थियों का आत्मविश्वास बढ़ता है और वे बेहतर से बेहतर काम करने के लिए तैयार होते जाते हैं। विश्वविद्यालय के लिए गौरव की बात है कि 22 विश्वविद्यालयों के विद्यार्थियों के बीच हुई कड़ी स्पर्धा में भाग लेकर विद्यार्थियों ने अपनी प्रतिभा को सबके सामने रखा। और सफल भी हुए। आने वाले दिनों में यही प्रतिभा और आत्म विश्वास उन्हें देश के बड़ें मंच में परफांम करने का अवसर देगा।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS