इंडिया वाल

सुकमा जिले में स्थित रामाराम व बस्तर के रामपाल नये पर्यटन सर्किट में शामिल,छत्तीसगढ़ न केवल राम-जन्म की पृष्ठ-भूमि..बल्कि उनके जीवन-संघर्षो की साक्षी भी

रायपुर/जगदलपुर।छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में स्थित रामाराम और बस्तर में स्थित रामपाल को नये पर्यटन सर्किट में शामिल कर प्रदेश सरकार ने उनके सौंदर्यीकरण और विकास की याेजना तैयार कर ली है।लंका कूच से पहले जिस तरह रामेश्वरम् में भगवान श्रीराम ने शिवलिंग स्थापित कर पूजा-अर्चना की थी, उसी तरह उत्तर से दक्षिण भारत में प्रवेश से पहले उन्होंने छत्तीसगढ़ के रामपाल नाम की जगह में भी शिवलिंग स्थापित कर आराधना की थी। रामपाल बस्तर जिले में स्थित है, जहां प्रभु राम द्वारा स्थापित शिवलिंग आज भी विद्यमान है। दक्षिण प्रवेश से पूर्व प्रभु राम ने रामपाल के बाद सुकमा जिले के रामाराम में भूदेवी की आराधना की थी।CGWALL NEWS के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए

कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल को गुजरात में रैली के दौरान शख्स ने जड़ा थप्‍पड़
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS