मेरा बिलासपुर

सुलझ गई रतनपुर मर्डर मिस्ट्री

IMG-20150902-WA0004बिलासपुर— बिलासपुर पुलिस ने रतनपुर में दो दिन पहले हुए मर्डर मिस्ट्री का खुलासा कर लिया है। मर्डर करने वाले सभी आरोपी मृतक के ही दोस्त निकले । मर्डर में रजनीकांत के अलावा दो अन्य नाबालिग भी शामिल हैं। आरोपियों से पूछताछ के बाद न्यायालय को सौंप दिया गया है।

                             तीस अगस्त को रतनपुर थाना के भरवीडीह निवासी रामायण गंधर्व ने थाने में पहुंचकर बताया कि लक्ष्मी कश्यप के प्लाट में पम्प के पास 20 साल के एक युवक की लाश पड़ी हुई है। जिसके सिर पर चोट के निशान हैं। आस-पास कुछ खून के छींटे भी हैं। खून से सना हुआ एक पत्थर पर भी सिर के पास है।

                         सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंचकर पंचनामा तैयार किया। आस पास मुनादी भी करवायी लेकिन किसी ने भी मृतक को पहचानने से इंकार कर दिया। पुलिस ने 31 अगस्त को लाश को मर्च्युरी भेज दिया। पीएम के बाद लाश को पहचान के लिए सुरक्षित रख दिया। इस बीच पुलिस ने एक इश्तहार भी निकाला।

                 मुनादी और जांच के दौरान अंजोरा बाई ने बताया कि जब वह शाम को सांगर मोड़ के पास शौच के लिए गयी थी। उसी दौरान उसने पम्प हाउस के पास से झगडे की आवाज सुनी थी। मैने इसकी जानकारी सागर पारा के रूपेश,अमित और प्रदीप सूर्यवंशी को दी थी। तीनों जब झगड़ा स्थल की ओर जा रहे थे उसी दौरान एक लड़का पुराने काले रंग की पैशन स्टार्ट कर फरार हो गया। तीनों ने उसका पीछा भी किया लेकिन हाथ नहीं लगा। पुलिस ने तीनों से जानकारी हासिल करने के बाद जांच तेज कर दिया।

PS हेल्थ ने किया सिम्स कॉलेज व हॉस्पिटल का इंस्पेक्शन,स्टाफ की कमी को लेकर डीन से हुई चर्चा,ऑफलाइन पढ़ाई होगी शुरू

                     इश्तहार निकालने के बाद पौंसरा निवासी कुजराम सूर्यवंशी ने 1 सितम्बर को पुलिस के पास पहुंचकर बताया कि इश्तहार में छपा मृतक का फोटो उसके बेटे सूर्यप्रकाश की है। जो 30 अगस्त से भोलू ऊर्फ अजय सूर्यवंशी और रजनीकांत सूर्यवंशी के साथ मोटर सायकल से निकला लेकिन घर नहीं लौटा। 31 अगस्त को मैन भोलू से बताया कि तुम लोग गांव में ही चोरी किए हो मै सब कुछ ठीक कर लूंगा लेकिन मेरे लड़के को घर लाओ। लेकिन भोलू और रजनीकांत ने उसे दो दिनों तक गुमराह किया।

                 कुंजराम ने बताया कि गांव वालों की डर से भोलू कहीं भाग गया है। सूचना मिलने के बाद पुलिस ने भोलू के रिश्तेदारों के यहां लगातार छापामार कार्रवाई की लेकिन हाथ नहीं लगा। अंत में पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि भोलू को नगगोड़ा स्थित उसके ससुराल में और रजनीकांत को उसके घर पर देखा गया है। पुलिस ने दोनों को प्लानिंग के साथ अलग-अलग स्थानों से गिरफ्तार किया।

                                          दोनों ने पूछताछ के दौरान बताया कि हम लोगों ने गाव के ही वनमाली सूर्यवंशी के यहां तीस अगस्त को चोरी की। इस दौरान सूर्यप्रकाश का टंगिया वहीं छूट गया। हम लोगों ने पम्प हाउस लाकर नशा पानी के दौरान उसे समझाने का प्रयास किया कि सूर्यप्रकाश चोरी की जिम्मेदारी अपने सिर ले ले। लेकिन उसने इंकार कर दिया। इसके बाद मारपीट के दौरान उसके सिर को दीवार से टकरा गया। जिससे वह बेहोश हो गया। भोलू ने उसके सिर पर एक पत्थर पटक दिया। जिससे सूर्यप्रकाश की घटना स्थल पर ही मौत हो गयी। इसके बाद सूर्यप्रकाश को खेत के कीचड में औंधेमुंह फेंक दिया। पत्थर को भी सिर के पास फेंक दिया। बाद में दोनो अलग-अलग दिशा में निकल गये।

बिलासपुर शहर में कोरोना की बड़ी लहर..293 पाजीटिव..जिले में 337 संक्रमित मरीजों की पहचान..कलेक्टर डॉ. मित्तर ने दिया सख्त निर्देश..

               फिलहाल पुलिस ने दोनो आरोपियों को कोर्ट के हवाले कर दिया है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS