सोठी में 60 घर क्वारंटीन..प्रशासन का ग्रामीण क्षेत्र में बड़ा कदम..एक दिन पहले ही मिला है कोरोना का संदिग्ध मरीज

बिलासपुर—- सीपत क्षेत्र के सोठी गांव में प्रशासन ने करीब 60 या इससे अधिक घर को क्वारंटीन कर दिया है। प्रशासन ने यह कदम एतीहातन उठाया है। क्योंकि एक दिन पहले ही हैदराबाद से लौटे युवक को कोरोना का संदिग्ध मरीज मानकर सिम्स के कोरोना आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। डाक्टरों ने सैम्पल लेकर जांच के लिए भेज दिया है।

                    जानकारी हो  कि सीपत क्षेत्र के सोठी गांव के एक युवक को एक दिन पहले ही कोरोना मरीज का संदिग्ध मानकर सिम्स के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है। युवक का सैम्पल जांच के लिए रायपुर भेजा गया है। डॉक्टरों को फिलहाल रिपोर्ट का इंतजार है। 

             बताते चलें कि युवक 22 मार्च को हैदराबाद से लौटा था। कुछ दिनों तक ठीक रहा है। लेकिन कुछ ऐसे लक्षण पाए गए कि सूचना के बाद प्रशासन ने आनन फानन में युवक को सिम्स में भर्ती कराया।

             युवक सिम्स में भर्ती होने के बाद स्थानीय प्रशासन ने कलेक्टर के आदेश पर सोठी गांव के कमोबेश पांच दर्जन से अधिक घर और परिवार के सदस्यों को क्वारंटीन कर दिया है। लोगों के घर आने जाने पर भी प्रतिबंधन लगा दिया  गया है। साथ ही मौके पर प्रशासन पुलिस सुरक्षा भई तैनात कर दिया है।

                 बताया जा रहा है कि प्रशासन ने व्यापक स्तर पर घरों के क्वारंटीन रखने के कुछ अलग भी कारण है। जानकारी के अनुसार क्वारंटीन किए गए ज्यादातर परिवार के सदस्य कोरोना प्रकोप के  कुछ दिन बाद अन्य जिलों और प्रदेश के बाहर से आए हैं। लेकिन जब से प्रशासन ने सोठी गांव के एक युवक को संदेही मानकर सिम्स में भर्ती कराया है। एतिहात के तौर पर मिलने जुलने वाले परिवार के घरों को क्वारंटीन बना दिया है। फिलहाल सभी को कम से कम 14 दिनों तक इसी स्थिति में रहना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *