मेरा बिलासपुर

स्थापना दिवसः घंटों झूमते रहे, लोक संस्कृत के रसिया

Foundation Day 1Foundation day 3बिलासपुर—कोलइण्डिया और छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर इंदिरा विहार स्थित खेल मैदान में निदेशक  ए.पी. पण्डा के मुख्य आतिथ्य, निदेशक डा. आर.एस. झा, विभिन्न विभागाध्यक्षों, अधिकारियों-कर्मचारियों, श्रमसंघ प्रतिनिधियों, दर्शकवृन्दों के उपस्थिति में रंगारग सांस्कृतिक कार्यक्रम में प्रसिद्ध लोक गायिका सीमा कौशिक और छत्तीसगढ़ी सांस्कृतिक कला मंच ’’जय जोहार’’ के हिलेन्द्र ठाकुर और टीम ने पारम्परिक,गीत-नृत्य प्रस्तुत किए। इस दौरान बड़ी संख्या में उपस्थित दर्शकों ने कार्यक्रम का  भरपूर आनंद  उठाया ।

     रंगारंग कार्यक्रम के पूर्व अतिथियों का स्वागत पुष्पगुच्छ और पुष्पमाला से किया गया । छत्तीसगढ़ी लोक गायिका सीमा कौशिक और लोक गायक हिलेन्द्र ठाकुर का सम्मान अतिथियों ने शाल और श्रीफल से किया।

                       लगभग पांच घंटे तक चले लोकगीत और नृत्य कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ी लोककला के विभिन्न विधाओं का जीवन्त प्रस्तुति देखने को मिली।  हिलेन्द्र ठाकुर, सीमा कौशिक और उनके साथी कलाकारों ने छत्तीसगढ़ी डिस्को संगीत, सूआ गीत, गौरा गीत, रावत नाचा, देवार , भोजली , नाचा-गम्मत नृत्य  प्रस्तुत किया ।  छत्तीसगढ़ी सांस्कृतिक कार्यक्रम को देखने और सुनने पहुची भीड़ में विशेष उत्साह के साथ अपनापन और सम्मान दिखाई दिया ।

मातृछाया में श्रद्धा के साथ जांच शिविर

Mahila Mandalश्रद्धा महिला मंडल, एसईसीएल के तत्वावधान में छोटे बच्चों के लिए स्वास्थ्य जॉंच शिविर लगाया गया । बिलासपुर के कुदुदण्ड स्थित सेवा भारती ’’मातृछाया’’ में श्रद्धा महिला मंडल की अध्यक्षा शोभा प्रकाश के मार्गदर्शन में बच्चों के स्वास्थ्य-जॉ के बाद  दरी, दवाइयां और लैक्टोजन प्रदान किया ।  इस मौके पर श्रद्धा महिला मंडल की उपाध्यक पुष्पिता पण्डा, रेणु ठाकुर, सुमन झा, मंजू मिश्रा, संगीता मेहता, डॉ  तामस्कर, डॉ.तिर्की, डॉ संध्या शुक्ला उपस्थित थीं ।छत्तीसगढ़ स्थापना दिवस पर एसईसीएल में मनमोहक छत्तीसगढ़ी कार्यक्रम सम्पन्न

एसईसीएल में काव्य फुहार...नामचीन कवियों ने किया पाठ

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS