मेरा बिलासपुर

स्वच्छता अभियान कार्यशाला– अधिकारियों ने किया रिचार्ज

IMG-20150918-WA0024बिलासपुर—स्वच्छ भारत मिशन के तहत आज स्थानीय पंचायत प्रशिक्षण केन्द्र सरकण्डा में समुदाय आधारित सम्पूर्ण स्वच्छता पर 03 दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला का उद्घाटन अन्बलगन पी. कलेक्टर एवं अध्यक्ष, प्रबंधन समिति स्वच्छ भारत मिशन ने किया। कार्यशाला की अध्यक्षता डा. सर्वेश्वर नरेन्द्र भूरे मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने की।

       कार्यशाला के प्रारम्भ में कलेक्टर एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत द्वारा दीप प्रज्जवलन कर कार्यशाला का उद्घाटन किया। तत्पश्चात् अतिथियों का पुष्प गुच्छ से स्वागत किया गया।

     कार्यशाला में स्वागत् उद्बोधन करते हुए डा. भूरे ने बताया कि अभी 20 निर्मल ग्राम पंचायत जो कि पुनः पूर्व की स्थिति में आ गए है उन पंचायतों के 2-2 व्यक्तियों को आंमत्रित कर प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षित व्यक्ति अपनी ग्राम पंचायतो में जाकर अपने ग्राम को खुले में शौच मुक्त करने का प्रयास करेंगें। डा. भूरे ने कहा कि यह अत्यन्त महत्वपूर्ण कार्य है अतः सभी लोग गंभीरता से प्रशिक्षण में भाग ले। उन्होने उपस्थित लोगों से कहा कि वे पंचायत में जाकर और भी व्यक्तियों को जोड़कर कार्य करें जिससे स्वच्छता अभियान को सफल बनाने में चेन का निर्माण किया जा सके।

     कार्यशाला को संबोधन करते हुये कलेक्टर ने कहा कि पंचायतो को खुले में शौच मुक्त बनाना एक चुनौती से कम नहीं है। कलेक्टर ने कहा कि सभी लोगों को नजरिया बदलना होगा एवं ग्रामीणों के व्यवहार में परिवर्तन लाने के लिये अधिक प्रयास करना होगा जिससे ग्रामीण स्वयं अपना शौचालय का निर्माण करें एवं नियमित रूप से उसका उपयोग करें। उनके समक्ष कलेक्टर ने बहुत से उदाहरण भी दिये। उन्होने बताया कि यदि एक गिलास में आधा पानी है तो बहुत से लोग कहते है कि आधा गिलास पानी है तो बहुत से लोग कहते है कि आधा गिलास खाली है। अतः लोगों को नजरिया बदलने की आवश्यकता है। सकारात्मक सोच के साथ काम करने से यह मिशन सफल होगा।

Aloha Cluster 10 freispiele ohne einzahlung 2022 Pays Slots Cpaf

     आज की कार्यशाला में तखतपुर, बिल्हा, कोटा एवं मस्तुरी के 20 निर्मल ग्राम पंचायतो से 40 व्यक्तियों को प्रशिक्षण दिया गया । कार्यशाला में राज्य स्तर से प्रशिक्षित श्री रिमन सिंह एवं डा. एम.के.यादव ने सी.एल.टी.एस. का प्रशिक्षण दिया।

         कार्यक्रम में देवनाथ मुखर्जी जिला परियोजना समन्वयक, सौरभ सक्सेना एवं शैलेष शर्मा जिला समन्वयक, डा. अर्चना मिश्रा. परियोजना अधिकारी जिला पंचायत सहित पंचायत प्रशिक्षण केन्द्र के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS