हम सब छत्तीसगढ़ महतारी की संतान-सीएम

cm photocc(21)नया रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि छत्तीसगढ़ की माटी, यहां का पानी, यहां के गांव और लोग तथा यहां के पेड़-पौधे अलग-अलग होने के बावजूद एक बात सबमें समान है कि हम सब छत्तीसगढ़ महतारी की संतान हैं। उन्होंने कहा कि ‘हमर छत्तीसगढ़’ योजना के जरिए हमारी पंचायतों के निर्वाचित सदस्य प्रदेशवासियों को इसी भावना को प्रदर्शित करेंगे। नया रायपुर में अपने गांव और अपने क्षेत्र की मिटटी, वहां का पानी और वहां के पौधे लगाकर लगभग पौने दो लाख पंचायत प्रतिनिधि सम्पूर्ण प्रदेश को भावनात्मक रूप से नया रायपुर के साथ जोडेंगे। वे अपने राज्य की विगत दस-बारह वर्ष की तरक्की की नयी तस्वीरें भी देखेंगे और अपने गांव जाकर लोगों को इसकी जानकारी देगें। मुख्यमंत्री ने शुक्रवार दोपहर नया रायपुर में अगले दो साल तक चलने वाली ‘हमर छत्तीसगढ़’ योजना का शुभारंभ करते हुए इस आशय के विचार व्यक्त किए। उल्लेखनीय है कि इस योजना के तहत प्रदेश के लगभग पौने दो लाख पंचायत प्रतिनिधियों को रायपुर और नया रायपुर के भ्रमण पर आमंत्रित कर उन्हें राज्य के विगत दस वर्ष की विकास यात्रा के विभिन्न पहलुओं का अवलोकन कराया जाएगा।

शुभारंभ समारोह नया रायपुर के ग्राम उपरवारा स्थित होटल प्रबंध संस्थान के परिसर में आयोजित किया गया। आज पहले दिन राजनांदगांव, कबीरधाम और धमतरी जिलों के कुल 500 प्रतिनिधि इस आयोजन में पहुंचे। वे दो जुलाई तक दौरे पर रहेंगे। शुभारंभ समारोह में इन पंचायत प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री और मंत्रियों के साथ नया रायपुर के बॉटनिकल गार्डन में अपने-अपने गांवों से लाए गए विभिन्न प्रजातियों के पौधे भी लगाए। वे अपने साथ अपने गांव की मिट्टी और पानी भी लेकर आए थे। मुख्यमंत्री ने शुभारंभ समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि राज्य शासन द्वारा गांव, गरीब और किसानों तथा समाज के सभी वर्गों की बेहतरी के लिए कई योजनाएं चलायी जा रही हैं। किसानों के लिए ड्रिप और स्प्रिंकलर सिंचाई उपकरण अनुदान पर देने की योजना है।

                            बहुत जल्द प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की उज्जवला योजना के तहत राज्य के 25 लाख गरीब परिवारों को महिलाओं के नाम पर सिर्फ 200 रूपए पंजीयन शुल्क लेकर निःशुल्क रसोई गैस कनेक्शन, चूल्हा और पहला सिलेण्डर देने का काम शुरू होने जा रहा है। प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत मिशन के तहत पूरे देश को वर्ष 2019 तक खुले में शोच मुक्त राष्ट्र की पहचान दिलाने का लक्ष्य है, लेकिन छत्तीसगढ़ में हमारे पंचायत प्रतिनिधि अगर उत्साह के साथ सक्रिय रहें, तो हम सब आम जनता के सहयोग से इस लक्ष्य को एक साल पहले प्राप्त कर सकते हैं।

                         मुख्यमंत्री ने कहा- ग्राम पंचायतों और नगर पंचायतों के प्रतिनिधियों को इन योजनाओं की जानकारी होनी चाहिए, तभी वे आम जनता को उनकी जानकारी दे सकेंगे और उनके क्रियान्वयन में अपनी सार्थक भूमिका निभा सकेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमर छत्तीसगढ़ योजना के तहत रायपुर और नया रायपुर आने वाले पंचायत प्रतिनिधियों को राज्य सरकार की ओर से सभी विभागों की योजनाओं पर आधारित जानकारी भी उपलब्ध करायी जाएगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *