हाईटैक चोर गिरोह का पर्दाफाश…कार से करते थे रेकी..भारी मात्रा में चोरी के सामान बरामद…4 आरोपी गिरफ्तार

बिलासपुर— हाईटैक चोर गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश किया है। चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। पकड़े गए चारो आरोपी सिरगिट्टी.चकरभाठा थाना समेत रायपुर,राजनांद गांव, ग्वालियर में भी चोरी की घटना को अंजाम दे चुके हैं। पुलिस ने आरोपियों के पास से चोरी की माल समेत नगद और कार बरामद किया है। चारो आरोपी कार से दिन में रैकी और रात को चोरी की घटना को अंजाम दिया करते थे।

                    पुलिस कप्तान के निर्देश पर बिलासपुर पुलिस ने जिले में हो रही चोरी की वारदात के खिलाफ सघन कार्रवाई के दौरान हाईटैक चोर गिरोह का पर्दाफाश किया गया है। एडिश्नल एसपी ओपी शर्मा ने बताया कि साइबर सेल और सीएसपी को जानकारी मिली कि राज्य और राज्य के बाहर के कुछ असामाजिक तत्व शहर में लगातार चोरी की घटना को अंजाम दे रहे हैं। मुखबिर से यह भी जानकारी मिली कि इन दिनों जुआ सट्टा और हत्या के प्रयास का आरोपी राजू कैवर्त ऑरेंज कार में कुछ बाहरी लोगों के साथ घूम फिर रहा है। अनाश शनाप रूपए खर्च कर रहा है। चारो मिलकर जमकर नशा भी कर रहे हैं। जहां तहां कार से घूम भी रहे हैं।

                      ओपी शर्मा के अनुसार मामले की जानकारी लगते ही तिफरा निवासी राजू कैवर्त को बस स्टैण्ड बिलासपुर से पकड़ा गया। राजू कैवर्त पहले तो पूछताछ के दौरान पुलिस को गुमराह करने का प्रयास किया। कड़ाई से पूछताछ के दौरान बताया कि चारोें ने मिलकर सिरगिट्टी और चकरभाठा थाना में चोरी की वारदात को अंजाम दिया है।

किराए का मकान...कार रैकी

                       पुलिस को राजू कैवर्त ने बताया कि उसका घर हाउसिंग बोर्ड कालोनी में है। उसके तीन अन्य साथियों के नाम राजू सिक्का,कालू थापा और शकील खान है। राजू  सिक्का रायपुर का रहने वाला है। आदतन चोर है। इस समय चोरी की सजा से बचने रायपुर से फरार होकर बिलासपुर में है। राजू सिक्का से उसकी पहचान बस स्टैण्ड में हुई। दोनों ने मिलकर चोरी करने की योजना को अंजाम दिया। योजना को अंजाम देने राजू सिक्का ने पूर्व में अपने साथ चालान हुए साथी कालू  थापा को बुलाया। कालू थापा मुरैना मध्यप्रदेश का रहने वाला है। चौथे साथी का नाम शकीन खान है। शकील राजनांदगांंव जिले के डोंगरगढ़ का रहने वाला है।

                  ओपी शर्मा ने बताया कि राजू कैवर्त ने जानकारी दी कि चारो ने मिलकर आरेंज रंग की ईको स्पोर्टस कार की व्यवस्था की। कार से चारो दिन भर घूम घूम कर शहर की रैकी किा करते थे। रात्रि को चोरी की वारदात को अंजाम  देते थे।

                            राजू कैवर्त ने बताया कि तिफरा स्थित नया बस स्टैण्ड के पास चारो साथी किराए के मकान में रहते हैं। राजू की निशानदेही पर सभी आरोपियों की घेराबन्दी कर गिरफ्तार किया गया। पूछताछ करने पर चारो ने बताया कि चकरभाठा के सनफ्लावर कालोनी और सिरगिट्टी स्थित मकान में चोरी की है। उन लोगों ने बिलासपुर में भी कई स्थानों में घूमकर रैकी की। लेकिन लोगों के जाग जाने के बाद चोरी की घटना को अंजाम नहीं सके।

चारो आरोपी आदतन अपराधी

                    ओपी शर्मा ने जानकारी दी कि पकड़े गए सभी चारो आरोपी आदतन चोर हैं। इसके पहले आरोपियों ने झांसी, गोंदिया में चोरी की घटना को अंजाम दे चुके हैं।मामले में झांसी और गोंदिया के पुलिस से संपर्क किया गया है।

                एडिश्नल एसपी के अनुसार चारो आरोपियोंं ने 26 मई 2019 को चकरभाठा थाना क्षेत्र स्थित एन.के.चिरानिया के निवास को निशाना बनाया था। सोने चांदी,के जेवर समेत कैमरा,मोबाइल,नगदी पर हाथ साफ किया। आरोपियों के पास सभी सामान को बरामद कर लिया गया है।

                          इसके अलावा आरोपिोयों ने सिरगिट्टी थाना क्षेत्र में सुरेश कुमार यदु के मकान को निशाना बनाया। आरोपियों ने चैनल गेट का ताला तोड़कर छत पर सो रहे प्रार्थी के पास से मोबाइल, और अन्य कीमती सामानों को पार किया।

              ओपी शर्मा ने बताया कि आरोपियों के पास ताला तोड़ने का औजार भी मिले हैं। आरोपी शकील खान पर  राजनांदगांव में आबकारी एक्ट के तहत अपराध दर्ज था। आरोपी चोरी के सामान को बिल्हा थाना क्षेत्र के रहने वाले राजा ऊर्फ नीरज पिता रोहिल पाल को बेचा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *