हिस्ट्री शीटरों को जिला बदर..कलेक्टरों ने दी चुनावी गतिविधियों की जानकारी..बताया शराब दुकानें रहेंगी बंद

 

बिलासपुर— लोकसभा चुनाव प्रेक्षकों ने लोकसभा निर्वाचन की तैयारियों की समीक्षा की। स्थैतिक निगरानी और उड़नदस्ता दलों की सक्रियता बढ़ाने का निर्देश दिया। सामान्य प्रेक्षक ने कहा कि स्वतंत्र निष्पक्ष और पारदर्शी चुनाव सुनिश्चित करने सभी लोग अपनी जिम्मेदारियों का ईमानदारी से अंजाम दें।मंथन सभागार में शनिवार को भारत निर्वाचन आयोग से नियुक्त पुलिस प्रेक्षक अमित कुमार जैन और सामान्य प्रेक्षक  के.एम. पांडुरंग ने बैठक ली।जिला रिटर्निंग अधिकारी कलेक्टर डॉ. संजय अलंग, मुंगेली कलेक्टर सर्वेश्वर नरेन्द्र भूरे समेत निर्वाचन कार्यक्रम से सम्बन्धित सभी प्रमुख अधिकारी बैठक में मौजूद थे।सीजीवालडॉटकॉम के WhatsApp ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करे 

 पुलिस प्रेक्षक अमित जैन ने अधिकारियों से कहा कि संवेदनशील क्षेत्रों में सुरक्षा व्यवस्था पर हमेशा सतर्क रहें। पहले से आवश्यक तैयारी रखें।  शराब और नगद के परिवहन को लेकर अब तक की गई कार्रवाई कम है। ऐसे मामलों में रिकव्हरी बढ़ाने की जरूरत है। लाइसेंसी हथियार शत.प्रतिशत जमा होने चाहिए। यदि कार्रवाई पूरी नही हुई तो कार्रवाई होगी। असामाजिक तत्वों के खिलाफ कार्रवाई में तेजी करें। हिस्ट्री शीटर के खिलाफ जिला बदर की कार्रवाई सख्ती से की जाये। मतदान दिवस पर पेट्रोलिंग व्यवस्था में बहुत सतर्क रहने की जरूरत है। पेट्रोलिंग पार्टी के पास वायरलेस सेट के साथ नजदीकी थानों से सम्पर्क रहें। राज्य की सीमा पर चेक प्वाइंट पहले से तैयार कर लिये जाएं। वरिष्ठ अधिकारी भी स्थैतिक निगरानी दल और उड़नदस्ता के काम की आकस्मिक जांच करें।

                         पांडुरंग ने कहा कि आदर्श आचरण संहिता का कड़ाई से पालन किया जाये। मतदान केन्द्रों और स्ट्रांग रूम की व्यवस्था कंट्रोल रूम का मैनेजमेंट, कम्यूनिकेशन और सुरक्षा प्लान पर ध्यान दें। मतदान केन्द्रों में सभी मूलभूत सुविधाएं रहें।

पाडूंरंग ने आबकारी विभाग के अधिकारियों से कहा कि शराब की खपत और बिक्री के प्रतिदिन के आंकड़ों पर निगरानी रखी जाए। प्रतिदिन डाटा उपलब्ध कराने कहा।

                    जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. संजय अलंग ने कहा कि चुनाव संचालन की तैयारी और पूरी प्रक्रिया में पारदर्शिता बरतनी है। नामांकन का कार्य पूर्ण हो चुका है। अंतिम मतदाता सूची एक दो दिन में आ जाएगी। ईवीएम का रेंडमाइजेशन किया गया है। अभ्यर्थियों की संख्या बढ़ने पर फिर से रेंडमाइजेशन कराया जाएगा। मतपत्रों के मुद्रण की तैयारी की जा रही है। इसके बाद कमीशनिंग होगी। मतदान दलों के आवागमन पर सी टॉप एप्प के जरिये नजर रखी जायेगी।

                                     जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि सभी मतदान दलों को मतदान सामग्री किट प्रदान किया जाएगा। मतदान सामग्री वितरण के बाद मतदान दलों की रवानगी प्रक्रिया में कोई परेशानी नही होने चाहिए। अलंग ने कहा कि सी. विजिल से प्राप्त शिकायतों के निराकरण के लिए रात के लिए नियुक्त की गई टीम भी सतर्क है। पिछले चुनाव में जिन स्थानों पर कम मतदान हुआ है वहां स्वीप कार्यक्रम के जरिये मतदाताओं को प्रेरित किया जाए। वीवीपैट मशीनें अति संवेदनशील हैं। बूथ में हैलोजन लाइट का  और कूलर का प्रयोग न हो।

मुंगेली कलेक्टर भूरे ने कहा कि व्यय लेखा संधारण के लिए दोनों जिले के अधिकारियों को समन्वय से काम करना होगा। तालमेल के साथ चुनाव को बेहतर और व्यस्थित बनाने हर संभव तैयार रहना होगा। चुनाव में किसी प्रकार की शिकायत या लापरवाही पाए जाने पर सख्त कदम उठाया जाएगा।  बिलासपुर पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक मीणा ने कहा कि प्रेक्षकों के साथ स्थैतिक निगरानी दल और उड़नदस्ता दल की आकस्मिक जांच करेंगे। मतदान और मतगणना के दौरान अंतर जिला अंतर्राज्यीय सीमा पर पांच किलोमीटर के दायरे में भी शराब दुकानें बंद रखी जायेंगी।

                       बैठक में मुंगेली पुलिस अधीक्षक सी.डी. टंडन, अपर कलेक्टर बी एस उइके, सहायक कलेक्टर कुणाल दुदावत जिला पंचायत बिलासपुर और मुंगेली के मुख्य कार्यपालन अधिकारीए विशेष रूप से मौजूद थे।

स्ट्रांग रूम का जायजा

 भारत निर्वाचन आयोग सामान्य प्रेक्षक के.एम. पांडुरंग और पुलिस प्रेक्षक अमित कुमार जैन ने शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेज कोनी में स्ट्रांग रूम का जायजा लिया। दोनों प्रेक्षकों ने मतदान सामग्री वितरण व्यवस्था और वापसी व्यवस्था की जानकारी ली। बनाये गए विधानसभावार स्ट्रांग रूम और मतगणना कक्षों का निरीक्षण किया। अंतिम रेंडमाइजेशन के पहले अधिक संख्या में सीसीटीवी कैमरे लगाने का निर्देश दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *