हेल्थ डिपार्टमेंट के मोबाइल एप से मिलेगी, एक्सीडेंट/ इमरजेंसी में मदद

helth app रायपुर।  स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा राजधानी रायपुर में आज ‘सुरक्षित गर्भपात देखभाल एवं मीडिया की भूमिका’ विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित की गई। जिससे कार्यशाला को संबोधित करते हुए स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव  सुब्रत साहू ने बताया कि विभाग द्वारा एक ऐसा ऐप तैयार किया जा रहा है। जिससे दुर्घटना अथवा आपातकालीन स्थिति उत्पन्न होने पर तत्काल एक क्लिक कर चिकित्सा सुविधा के लिए संबंधित डॉक्टरों से संपर्क किया जा सकता है। इसके माध्यम से रोड मेप के अलावा नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्रों की भी जानकारी ली जा सकती है। श्री साहू ने सुरक्षित गर्भपात के लिए छत्तीसगढ़ के दूरांचल क्षेत्रों में भी जहां लोग कम पढ़े लिखे होते हैं वहा व्यापक प्रचार-प्रसार करने को कहा। उन्होंने कहा कि गर्भपात महिलाओं की स्वास्थ्य से जुड़ी हुई मामला होते हैं अतः मीडिया को भी जागरूकता के लिए सहयोग प्रदान करना चाहिए। इस मौके पर संचालक स्वास्थ्य सेवाएं श्री आर. प्रसन्ना, डॉ. अलका गुप्ता, डॉ. राजेश शर्मा, आई. पास के संचालक  अरविन्द्र मंडवाल सुश्री मेघा गांधी सहित प्रदेश के मीडिया प्रतिनिधि शामिल हुए।
कार्यशाला को  आर. प्रसन्ना ने भी संबोधित किया।     उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा अब तक कुल स्वीकृत तीन हजार 275 स्टॉफ नर्स के विरूद्ध दो हजार 742 पदों की भर्ती की गई हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में करीब 66 हजार मितानिन और शहरी क्षेत्र में करीब 3 हजार 500 मितानिन कार्यरत है। उन्होंने छत्तीसगढ़ में सुरक्षित गर्भपात सेवाओं की पहुंच बढ़ाने के लिए मीडिया की अहम भूमिका बताया। ग्राम स्तर पर सुरक्षित गर्भ समापन सेवाओं की मांग करने वाली महिलाओं को मुफ्त सेवायें देने के लिए जन समूह, मीडिया और व्यक्तिगत संचार की अहम भूमिका पर बल दिया। उन्होंने बताया कि प्रदेश में लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं की जानकारी प्रदान करने के लिए पीयर एजुकेटर का गठन किया गया है जिसके माध्यम से सुरक्षित गर्भपात सेवाओं की भी जानकारी दिए जा रहे हैं।
कार्यशाला में पत्रकारों ने सुरक्षित गर्भपात के संबंध में मीडिया की क्या भूमिका हो सकती है कि संबंध में अधिकारियों के साथ व्यापक विचार-विमर्श किया। पत्रकारों ने इससे संबंधित कई सवाल भी पूछे। प्रमुख सचिव  सुब्रत साहू, संचालक  आर. प्रसन्ना, विशेषज्ञ वक्ताओं द्वारा उनके प्रश्नों का उचित उत्तर दिया गया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *