नगर निगम में नौकरी लगाने के नाम पर 8 युवाओं से 10 लाख 50 हजार की ठगी

दुर्ग। युवाओं को नौकरी लगाने के नाम पर ठगी करने वाले एक आरोपी को नेवई पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी ने नगर निगम में नौकरी लगाने के नाम पर 8 युवाओं से 10 लाख 50 हजार की ठगी की थी।जानकारी के मुताबिक, आज (20 सितंबर)नेवई थाने में पुरुषोत्तम मेश्राम, अरुण साहू, पीयूष हिरवानी, यशवंत साहू, पूजा मेश्राम, कंचन रामटेके और सुमित मेश्राम ने ठगी की शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत में पीड़ितों ने बताया कि 2020 में उनकी मुलाकात रिसाली बजरंग पारा निवासी करण चंद्राकर से हुई थी।

इस दौरान उसने रिसाली निगम में विभिन्न पदों पर वैकेंसी की जानकारी दी। साथ ही खुद को करण ने निगम के बड़े अधिकारियों से अच्छी जान पहचान होने की बात भी कही और कहा कि चाहे तो इन सभी युवाओं को पियून की नौकरी निगम में लगा सकता है। इसके बदले उसने युवाओं से रुपए की मांग की। करण चंद्राकर की चिकनी चुपड़ी बातों में आकर सभी युवाओं ने अलग अलग किस्तों में 10 लाख 50 हजार दे दिए। रुपये देने के बाद भी जब युवाओं को नौकरी नहीं मिलीआरोपी द्वारा रुपये भी वापस नहीं किये गए तो खुद को ठगा हुआ महसूस कर नेवई थाने में शिकायत दर्ज कराई। 

शिकायत को गंभीरता से लेते हुए टीआई ममता शर्मा अली ने आरोपी के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उसे गिरफ्तार किया गया। आरोपी के खिलाफ 420 के तहत मामला दर्ज कर पुलिस आगे की जांच में जुट गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.