हमार छ्त्तीसगढ़

2 टीचर सस्पैंड,6 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की गई नौकरी

jashpur_collectorateजशपुर(सीजीवाल)।कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने निदान जशपुर अंतर्गत गुरूवार को बगीचा और कांसाबेल जनपद के नोडल अधिकारियों और विभाग प्रमुखों की समीक्षा बैठक ली।कलेक्टर ने नोडल अधिकारियों से प्राप्त प्रतिवेदन के आधार पर संबंधित विभागों से कहा है स्कूल और आंगनबाड़ी केन्द्रों में बच्चों की नियमित उपस्थिति बढ़ायंे। इनके निर्धारित समय पर संचालन और गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिए जायें। उन्होंने मरम्मत योग्य स्कूल और आंगनबाड़ी भवनों का मरम्मत कार्य जल्द पूर्ण कराने कहा है।कलेक्टर ने कार्याे में लापरवाही बरतने और अनुपस्थित रहने पर 6 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की सेवाएं समाप्त कर दी गई है।
(सीजी वाल के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप  यहां क्लिक कर सकते हैं।आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)
नोडल अधिकारियों से मिली जानकारी के आधार पर और कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला के निर्देश पर जनपद पंचायत बगीचा के सीईओ ने तत्काल प्रभाव से इनकी सेवा समाप्त कर दी है।सीईओ जनपद पंचायत बगीचा ने बताया कि बगीचा विकासखंड के ग्राम पंचायत सरधापाठ के आंगनबाड़ी केन्द्र-1 की कमलौती यादव, ग्राम पचंायत रोकड़ा के आंगनबाड़ी केन्द्र महादेवजोबला की अन्ना बखला, ग्राम पंचायत दनगरी के आंगनबाड़ी केन्द्र माझीपारा की निशा देवी, ग्राम पंचायत महुआ के अम्बाडीपा की इकरानी यादव, ग्राम पंचायत सामरबार के भीतरकोना की प्रिती गुप्ता और ग्राम पंचायत मरंगी के मिनी आंगनबाड़ी की कार्यकर्ता असुन्ता खलखो की सेवा समाप्त की कर दी गई है।

दो सहायक शिक्षक निलंबित
बैठक में नोडल अधिकारियों से मिली जानकारी के आधार पर और कलेक्टर के निर्देश पर बगीचा विकासखंड के दो सहायक शिक्षक पंचायत को कार्य के प्रति लापरवाही बरतने पर निलंबित किया गया है। बगीचा जनपद के सीईओ ने बताया कि बगीचा विकासखंड के संकुल केन्द्र डुमरकोना के प्राथमिक शाला जमुनियापाठ के सहायक शिक्षक पंचायत विनोद कुमार सिंह को 16 जून से 26 जून 2017 तक बिना सूचना के अपने कार्य में अनुपस्थित रहने के कारण एवं संकुल केन्द्र कोदोपारा के प्राथमिक शाला चेपराकोना के सहायक शिक्षक पंचायत रजत कुमार तिर्की को बिना सूचना के कार्य में अनुपस्थित होेने के कारण  पंचायत सेवा आचरण नियम 1998 के नियम कंडिका 01 एवं 02 के तहत तत्काल प्रभाव निलंबित कर दिया गया है।

जब छत्तीसगढ़ की केजा चंद्राकर ने पीएम मोदी को बताया-स्मार्टफोन और केश एप्लीकेशन से कुपोषण को दूर करने में मिल रही मदद
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS