2 महीने बाद पकड़ाया..307,आर्म्स एक्ट का चौथा आरोपी..पांचवा अभी भी फरार..तीन पहले से जेल में बन्द

बिलासपुर— सिविल लाइन पुलिस ने दो महीने पहले जान से मारपीट की नीयत से हमलाकरने वाले आरोपी को दो महीने बाद गिरफ्तार कर लिया है। मामले में तीन आरोपी पहले से ही जेल की सजा काट रहे हैं।जबकि पांचवा आरोपी अभी भी फरार है।

              सिविल लाइन थाना प्रभारी शनिप रात्रे ने बताया कि दो महीने पहले शिकायत कर्ता ओमनगर निवासी दिलावर सूर्यवंशी ने आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी थी। पीड़ित ने बताया कि संजू टण्डन धर्मेन्द्र गेन्दले नशे का कारोबार करते हैं। शिकायत करने या गवाही देने की सूरत में आरोपी जेल से छूटने के बाद मारपीट,गुंडागर्दी और जान से मारने की धमकी देते हैं।

                  25 जुलाई 2020 ी रात्रि करीब साढ़े दस बजे संजू टण्डन, धर्मेन्द्र गेंदले, विष्णु, समीर कोशले, गुरू  टण्डन और राजा बिहारी उसे मारने घर पहुंचे। सभी आरोपियों ने अपने  हाथ में तलवार,राड,पाइप, डंडा लिए थे। मौके पर घर में नहीं था। आरोपियों ने घर अन्दर घुसकर गाली गलौच की। पन्द्रह साल के भतीजे के साथ मारपीट की। साथ ही गाली गलौच करते हुए जान से मारने की धमकी भी दी। 

                  शनिप रात्रे ने जानकारी दी कि मामले में पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए संजू टंडन, धर्मेन्द्र गेन्दले, विकास को आईपीसी की धारा 307, 147, 148, 149, 294, 232, 506, आर्म्स एक्ट 25 और 27 के तहत धर दबोचा। । तीनों को जेल भेजा गया। तीनों के खिलाफ  पहले भी कई प्रकार के अपराध थाने में दर्ज है। जबकि दो अन्य आरोपियों को तात्कालीन समय पकड़ा नहीं जा सका था। फरार आरोपियों की तलाश भी की जा रही थी।

                   पुलिस ने  मुखबीर की जानकारी पर एक बार फिर अभियान चलाते हुए फरार दो आरोपियों राधा बिहारी और गोलू टण्डन की घेराबन्दी की। पुलिस ने गोलू टण्डन को गिरफ्तार किया है। आरोपी को न्यायिक रिमाण्ड पर जेल में दाखिल किया गया है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...