पिच पर रन लेते समय 36 साल के इंजीनियर की हार्ट अटैक से मौत

Shri Mi

नोएडा। नोएडा में क्रिकेट मैच के दौरान रन लेते समय पिच पर ही बल्लेबाज की मौत हो गई। वह रन लेने के लिए दौड़े तो आधी पिच तक पहुंचते-पहुंचते हांफने लगे। फिर, लड़खड़ाकर बेहोश होकर गिर पड़े। साथी दौड़ते हुए उनके पास पहुंचे। कुछ खिलाड़ियों ने सीपीआर दिया। रिस्पांस नहीं हुआ तो तुरंत अस्पताल लेकर पहुंचे। लेकिन, वहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

मृतक का नाम विकास नेगी है, जिनकी उम्र महज 36 साल थी। वह दिल्ली की एक कंपनी में बतौर इंजीनियर काम करते थे। रविवार को हुई घटना का मंगलवार शाम वीडियो सामने आया है। नोएडा के सेक्टर-135 स्थित स्टेडियम में रविवार को कारपोरेट लीग में मैवरिक्स इलेवन और ब्लैजिंग बुल्स का मैच चल रहा था।

मैवरिक्स टीम की तरफ से उमेश कुमार और विकास बल्लेबाजी कर रहे थे। 14वां ओवर चल रहा था। उमेश ने शॉट खेला। विकास नॉन-स्ट्राइकर एंड से रन लेने के लिए दौड़े। लेकिन, आधी पिच तक पहुंचते तभी गेंद बाउंड्री पार पहुंच गई। फिर, विकास ने उमेश को बधाई दी। इसी बीच अचानक लड़खड़ाकर गिर गए।

हार्ट अटैक से पहले विकास अपनी टीम के लिए 7 रन बनाकर बैटिंग कर रहे थे। उन्होंने 6 गेंदें खेली थी, तब उनकी टीम का स्कोर 13.5 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 143 रन था। मुकाबला यूट्यूब पर लाइव ब्रॉडकास्ट हो रहा था। ब्लैजिंग बुल्स ने पहले बैटिंग करते हुए 19.2 ओवर में 9 विकेट के नुकसान पर 183 रन बनाए थे।

हादसे के बाद टूर्नामेंट रोक दिया गया। साथी खिलाड़ियों ने बताया कि विकास मैच खेलने से पहले बिल्कुल ठीक था। अंदाजा नहीं था कि उनकी तबीयत खराब है। यह सब कुछ अचानक हुआ। किसी को कुछ समझ नहीं आया।

विकास मूलरूप से उत्तराखंड के रहने वाले थे। वह दिल्ली के रोहिणी इलाके में रहते थे। एसएचओ सरिता मलिक ने बताया कि विकास को क्रिकेट खेलने के दौरान अटैक आया और मौत हो गई। यह भी पता चला है कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान विकास संक्रमित हुए थे। परिवार से बात की गई है। उन्होंने कोई तहरीर नहीं दी है।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close