धान खरीदी को लेकर तहसीलदार को बंधक बनाने की खबर को शासन ने बताया भ्रामक

रायपुर। कबीरधाम जिले के धान उपार्जन केन्द्र पनेका में तहसीलदार को बंधक बनाने की खबर सोशल मीडिया और कतिपय समाचार माध्यमों में प्रसारित की गई जो पूरी तरह गलत और भ्रामक है।कबीरधाम कलेक्टर ने बताया कि जिले में धान की खरीदी सुचारू रूप से संचालित है। धान खरीदी की सुचारू व्यवस्था के लिए किसानों को टोकन जारी किया जा रहा है ताकि धान खरीदी केन्द्रों में अधिक देर तक किसानों को धान की तौलाई के लिए इंतजार नहीं करना पड़े।

तहसीलदार धान खरीदी की नियमित जांच के लिए पनेका धान खरीदी केन्द्र पहुंचे थे। यहां किसानों ने अपनी समस्याओं से संबंधित उन्हें ज्ञापन सौंपने में काफी समय लगाया जिसे कुछ लोगों ने तहसीलदार को बंधक बनाया का भ्रम फैला दिया जो कि पूरी तरह गलत है।

उन्होंने बताया कि जिले में समर्थन मूल्य पर हर किसान से प्रति एकड़ 15 क्विंटल के मान से धान खरीदी की जा रही है। धान खरीदी के लिए अफवाह फैलाई जा रही है कि लिमिट निर्धारित की गई है। जबकि इस संबंध में कोई लिमिट निर्धारित नहीं की गई है। प्रति एकड़ 15 क्विंटल के मान से धान की खरीदी की जा रही है। किसानों को धान खरीदी का भुगतान ऑनलाईन किया जा रहा है।

सभी धान खरीदी केन्द्रों में किसानों को किसी भी प्रकार के दिक्कत न हो इसके निर्देश दिए गए है। धान खरीदी केन्द्रों का प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा भ्रमण कर व्यवस्था का जायजा लिया जा रहा है। अन्य राज्यों से आने वाले धान पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *