यातायात नगरः प्रत्याशियों में नही– धरम और सियाराम में मुकाबला..6 बूथ में 6642 वोट..1 मत थर्ड जेन्डर का भी

बिलासपुर—- नामांकन वापसी के बाद प्रत्याशी घर घर दस्तक देना शुरू कर दिए हैं। मतदाताओं का मनुहार कर रहे हैं। क्षेत्र के विकास के लिए क्या कुछ करेंगे..जनता को घूम घूम कर बता रहे हैं। कमोबेश बिलासपुर के सभी 70 वार्डों के प्रत्याशियों की स्थिति ऐसी ही है। सुबह पौ फटते घर से निकलते हैं। देर रात जनता का दर्शन कर घर लौटते हैं।

                       आज हम वार्ड क्रमांक 9 के बारे में चर्चा करेंगे। वार्ड क्रमांक 9 को निगम में शामिल होने के पहले ग्राम पंचायत का दर्जा हासिल था। निगम का अभिन्न हिस्सा बन चुके पहले का परसदा ग्राम पंचायत अब वार्ड क्रमांक 9 यातायात नगर बन गया है। यहां सीधा मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच है। बसपा प्रत्याशी अपनी राजनैतिक पहचान के लिए चुनाव लड़ रहा है।

परसदा ग्राम पंचायत और यातायाता नगर की स्थिति

                  वार्ड क्रमांक 9 का नाम यातायात नगर है। परिसीमन के समय तिफरा नगर पालिका का ट्रान्सपोर्ट नगर और परसदा ग्राम पंयायत के समुचे भाग को मिलाकर यातायात नगर बनाया गया है। इसमें बड़ी आबादी ग्राम परसदा की है। बेशक परसदा ग्राम पंचायत था। लेकिन राजनैतिक रूप से बहुत जागरूक गांव रहा है। परसदा में ही भाजपा और कांग्रेस के चिर परिचित प्रतिद्वंदी धरमलाल और सियाराम कौशिक का घर है। इस समय मैदान में दोनों के चहेते प्रत्याशी मैदान में है। परिसीमन के बाद तैयार यातायात नगर  को अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित किया गया है। यहां पंजा और कमल के बीच नहीं बल्कि सीधे सीधे सियाराम और धरमलाल कौशिक के बीच मुकाबला है। मजेदार बात है कि निकाय चुनाव में एक दूसरे का आमना सामना कर रहे दोनो प्रत्याशी रिश्ते में चाचा और भतीजा हैं। 

कांग्रेस और भाजपा में मुख्य मुकाबला

                यातायात नगर वार्ड की कुल मतदाता संख्या 6642 है। पुरूष मतदाताओं की संख्या 2898 और महिला मतदाताओं की संख्या 2743 है। एक मतदाता थर्ड जेन्डर भी है। मुख्य मुकाबला कांग्रेस के मनहरण लाल कौशिक और भाजपा के दुर्गेश कौशिक के बीच है। दुर्गेश कौशिक परसदा के सरपंच भी रह चुके हैं। मनहरण लाल कौशिक की राजनैतिक यात्रा काफी लम्बी है। पत्नी जिला पंचायत की सदस्य हैं। बड़ा भाई सियाराम कौशिक कांग्रेस के दिग्गज नेता हैं। जितेन्द्र कौशिक की पत्नी बिल्हा जनपद पंचायत की अध्यक्ष रह चुकी हैं। दुर्गेश कौशिक को पार्टी के अलावा भाजपा के दिग्गज नेता धरमलाल कौशिक का वरदहस्त हासिल है।

  प्रत्याशियों की राजनैतिक स्थिति            

                    कांग्रेस प्रत्याशी मनहरणलाल कौशिक संगठन में पदाधिकारी हैं। पृष्ठभूमि राजनैतिक है। बड़े किसान होने के साथ ही समाज में अच्छी रसूख है। जन्मजात कांग्रेसी है। इसके उलट दुर्गेश कौशिक विधानसभा चुनाव के ठीक पहले कांग्रेस की बीस साल की सेवा बाद भाजपा में शामिल हुए हैं। दुर्गेश का कहना है कि अपनी राजनीति भाजपा से शुरू किए हैं। बाद में कांग्रेस की राजनीति करने लगे। मनहरण और मैने बीस साल साथ राजनीति की है। मनहरण के सहयोग से परसदा ग्राम पंचायत का सरपंच बनने का अवसर मिला। जब सियाराम जोगी कांग्रेस में गए तो मैने भाजपा का दामन थाम लिया। 

प्रत्याशियों का दावा     

                 कांग्रेस नेता मनहरण का गांव में अच्छा रसूख है। मनहरण का दावा है कि मैने जनता की सेवा की है। कांग्रेस ने मुझ पर विश्वास जताया है। अब जनता विश्वास पर मुहर लगाएगी। दुर्गेश कहते हैं कि नेता जी ने मुझे कुछ सोच समझकर ही टिकट दिया है। 

वार्ड की समस्या और निदान    

                वार्ड में  कुर्मी मतदाताओं की संख्या सर्वाधिक है। इसके बाद सूर्यवंशी समाज के मतदाताओं की संख्या है। ट्रान्सपोर्ट नगर को छोड़ दिया जाए तो परसदा में गांव अभी भी जिन्दा है। तंग गलियां यहां की पहचान है। सड़क बिजली,पानी,नाली की समस्या देखी जा सकती है। गांव पड़ा लेकिन बसाहट केन्द्रित है। तिफरा नगर पालिका से लगा क्षेत्र अभिलाषा परिसर, यातायात नगर, काफी विकसित हैं।

वार्ड क्रमांक 9 में शामिल क्षेत्र              

            वार्ड क्रमांक 9 का गठन कुल 6 क्षेत्रों को मिलाकर किया गया है। आवासपारा, नयापारा और परसदा ग्राम पंचायत से शहर प्रभावित क्षेत्र अभिलाषा परिसर, यातायातनगर, कोरियापारा को जोड़ा गया है। तीन पुराने और तीन नए क्षेत्रो के बीच रहन सहन में काफी अन्तर है। लेकिन सभी क्षेत्रवासियों की बिजली,पानी,सड़क ही है।

बूथ की संख्या और आबादी     

                 ग्राम पंचायत परसदा को मिलाकर वार्ड की आबादी 12 हजार से अधिक है। चुनाव आयोग ने मतदाताओं की सुविधा को देखते हुए मतदान के लिए कुल 6 बूथ बनाए हैं।

                             बूथ एक में मतदाताओं की सर्वाधिक संख्या 1144 है। इसके अलावा बूथ दो में 845 मतदाता, बूथ तीन में 1134 मतदाता, बूथ 4 में 834 मतदाता, बूथ 5 में 943 मतदाता और बूथ 6 में मतदाताओं की संख्या 742 है।

पहचान बनाने उतरा तीसरा प्रत्याशी

                 वार्ड क्रमांक 9 में बसपा भी मैदान में है। गांव वालों ने बताया कि ओमप्रकाश कौशिक कोटा क्षेत्र के पीपरतराई गांव का रहने वाहा है। गांव में कमाने खाने आया। बसपा ने ओमप्रकाश को मैदान में उतार दिया। हां चुनाव में उतरने से उसकी पहचान बढ़ गयी है।

                        ग्रामीणों की माने तो मुख्य मुकाबाल मनहरण और दुर्गेश के बीच है। मनहरण सौम्य और शांत होने के साथ जनता में व्यवहारिक है। दुर्गेश भी गींव से ही है। लेकिन उन्होने पार्टी छोड़ने में जल्दबाजी की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *