मुंगेली ने किया प्रदेश का नाम रोशन… केन्द्रीय मंत्री ने किया सम्मानित.. कलेक्टर भूरे ने कहा..समेकित प्रयास से मिली सफलता

बिलासपुर—भारत सरकार, ग्रामीण विकास मंत्रालय ने छत्तीसगढ़ राज्य को महात्मा गांधी नरेगा में वर्ष 2018-19 में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए अलग-अलग 7 राष्ट्रीय पुरस्कारों से सम्मानित किया है। छत्तीसगढ़ राज्य को को विभिन्न श्रेणियों में कुल 15 पुरस्कार मिले। नई दिल्ली स्थित राष्ट्रीय कृषि विज्ञान परिसर में मुंगेली को मनरेगा योजना को सफल क्रियान्यवन के लिए देश में प्रथम स्थान के लिए सम्मानित किया। कलेक्टर डॉ.सर्वेश भूरे ने सम्मान लेने के बाद बताया कि यह मुंगेली की जनता और कर्मचारियों का सम्मान है।
 
               दिल्ली में आयोजित भारत सरकार ग्रामीण विकास मंत्रालय के कार्यक्रम में मुंगेली को केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के हाथों विशेष सम्मान हासिल हुआ है। मुंगेली जिला को यह सम्मान मनरेगा कार्यक्रम के सफल क्रियान्यवयन के लिए हासिल हुआ है। मुंगेली की तरफ से सम्मान जिला प्रमुख डॉ. सर्वेश नरेन्द्र भूरे ने लिया।
 
                 देश में पहला स्थान हासिल होने और अवार्ड लेने के बाद डॉ. भूरे ने खुशी जाहिर की। उन्होने कहा कि निश्चित रूप से मुंगेली कलेक्टर होने के नाते जिले की जनता की तरफ से अवार्ड लेने पर असीम खुशी महसूस कर रहा हूं। सच्चाई तो यह है कि यह सम्मान बिना जनता और कर्मचारी स्टाफ के असंभव था। लेकिन मुंगेली की जनता और कर्मचारियों ने लगातार अथक मेहनत कर मुंगेली का नाम देश में रोशन किया है। इसके लिए मैं निजी तौर पर मुंगेली वासियों और कर्मचारियों को शुभकामनाएं देता हूं। विश्वास दिलाता हूं कि अभी शुरूआत है। जिले की जनता की मदद से जनहित में शुरू सभी योजनाओं का सफल क्रियान्यवन किया जाएगा। 
      
                डॉ. भूरे ने बताया कि समारोह में छत्तीसगढ़ को विभिन्न योजनाओं के तहत अनेक पुरस्कार हासिल हुए है। इस बात को लेकर दोहरी खुशी महसूस कर रहा हूं। प्रदेश के लिए प्रमुख सचिव सुब्रत साहू ने केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के हाथों सम्मान हासिल किया है।
            
               बताते चलें कि राज्य को एक दर्जन से अधिक अवार्ड मिलने के बाद कार्यों के सफल क्रियान्यवयन को लेकर छत्तीसगढ़ को देश में विशेष पहचान मिली है। योजना के सार्थक क्रियान्वयन के चलते ही प्रदेश का चयन केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय ने विभिन्न श्रेणियों में पुरस्कारों के लिए किया गया।  है। खासकर मनरेगा योजना के क्रियान्यवयन में शानदार कार्य को देखते हुए ग्रामीण विकास मंत्रालय ने प्रदेश को कुल सात अवार्ड दिए हैं। यह सम्मान तीन जिलों और विकासखंडों को दिए जाने वाले एक-एक और दो ग्राम पंचायतों को  हासिल हुआ है।
 
                          राष्ट्रीय विज्ञान परिसर में केन्द्रीय मंत्री ने प्रदेश को मनरेगा के तहत जियो-मनरेगा इनीशिएटिव्ह के क्रियान्वयन में देशभर में दूसरा, कार्यपूर्णता में दूसरा और सुशासन इनीशिएटिव्ह के क्रियान्वयन में दूसरा स्थान के  लिए सम्मानित किया। जिला प्रशासन में योजना के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए मुंगेली का ना केवल चयन किया गया। बल्कि केन्द्रीय मंत्री ने मुंगेली को अवार्ड बांटते समय बधाई भी दी। अवार्ड मिलने पर मुंगेली कलेक्टर और जिला कार्यक्रम समन्वयक मनरेगा  सर्वेश्वर नरेन्द्र भूरे ने खुशी जाहिर की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *