काम मे लापरवाही,मंत्री गुरु रुद्रकुमार ने दो अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी करने के दिए निर्देश

surajpur,news,chhattisgarh,hindi news,cg news,दौरे ,कमिश्नर , गड़बड़ियां, तहसीलदार , जनपद लिपिक, कारण बताओ नोटिस,कलेक्टर, आश्रम,छात्रावास , स्कूलों ,अचानक निरीक्षण , पांडातराई ,हायर सेकेडरी स्कूल,पांच शिक्षक, अनुपस्थित ,छात्रावास अधीक्षक , शो कॉज नोटिस ,जारी , निर्देश,Chhattisgarh, वेतन देयक, प्रस्तुत , ट्रेजरी अफसर ,थमाया ,कारण बताओ, नोटिस,kanker,chhattisgarh,jashpur nagar,news,चार अधिकारियों , कारण बताओ, नोटिस,लोकसेवा गारंटी , कोताही, मामला,डाईट, 08 अधिकारी-कर्मचारी,गैरहाजिर,कलेक्टर, शो-कॉज नोटिस जारी,छात्रावास अधीक्षक,शो कॉज नोटिस,मतदान अधिकारियों,प्रशिक्षण,लोकसभा चुनाव,अनुपस्थित,,नोटिस जारी,chhattisgarh,गैरहाज़िर ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक,मुख्य चिकित्सा एंव स्वास्थ्य अधिकारी कोण्डागांव,kondagaon,chhattisgarh news,hindi news

रायपुर।लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने आज राजधानी स्थित नीर भवन में विभागीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों की समीक्षा की। उन्होंने बैठक में कोण्डागांव और अम्बिकापुर के अधीक्षण अभियंताओं को कार्य में शिथिलता और लापरवाही बरतने पर कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश वरिष्ठ अधिकारियों को दिए। मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि 15 दिनों के भीतर संतोषजनक जवाब न पाए जाने पर निलंबन की कार्रवाई की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने विगत माह में लिए समीक्षा बैठक के दौरान विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की जिलेवार अद्यतन जानकारी न मिल पाने के कारण अधिकारियों को पूर्ण जानकारी निश्चित समय-सीमा में उपलब्ध कराने के निर्देश दिए थे। उन्होंने हर दो माह में सभी वरिष्ठ अभियंताओं को विभागीय कार्यों की समीक्षा करने के निर्देश भी दिए थे। अधिकारियों द्वारा प्राथमिकता वाले कार्यों में उदासीनता बरतने पर तीखी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि विभाग की कार्यशैली काफी निराशाजनक है।

मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने अधिकारियों से प्राप्त अस्पष्ट जानकारी से नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि रायपुर, बिलासपुर और जगदलपुर तीनों परिक्षेत्र के मुख्य अभियंता अपने सभी अधिकारियों की कल ही बैठक लेकर जानकारी एक सप्ताह के भीतर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए और साथ ही कार्यों में कसावट लाने 15-15 दिन में बैठक करने के निर्देश दिए। 

मंत्री गुरू रूद्र ने 27 जिलों के सभी शिक्षण संस्था, उप स्वास्थ्य केन्द्रों और आंगनबाड़ी केन्द्रों में पेयजल व्यवस्था की समीक्षा कर सरकार गठन के बाद अब तक कि अद्यतन जानकारी 15 दिनों के अंदर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए और कहा कि कार्यों में धीमी गति पाए जाने पर अंतिम दो जिलों के संबंधित अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी कर सख्त कार्रवाई करने के स्पष्ट निर्देश दिए है। राजीव गांधी नल जल योजना और मुख्यमंत्री नल जल योजना की संपूर्ण जानकारी एक सप्ताह के अंदर प्रस्तुत करने को कहा।

उन्होंने निर्देशित किया कि मिनीमाता अमृतधारा योजना सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ विभाग में संचालित सभी पेयजल योजनाओं को समय-सीमा में पूर्ण करें। उन्होंने बैठक के दौरान विभाग को उपलब्ध आबंटन का शत्-प्रतिशत उपयोग किया जाए। नगरीय क्षेत्रों में स्वीकृत पेयजल योजनाओं को आवश्यकतानुसार प्राथमिकता क्रम से पूर्ण कराया जाए।

 मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने इस राज्य स्तरीय समीक्षा बैठक में मिनीमाता अमृत धारा योजना की अद्यतन प्रगति, विधायकों के प्रस्ताव अनुसार 15-15 नल-जल योजनाओं की डीपीआर बनाने, विधायकों के गृह ग्राम में नल जल योजना, एनआर डीडब्ल्यूपी के अंतर्गत अद्यतन व्यय की जिलेवार जानकारी, राजीव गांधी सर्वजल योजना के डीपीआर की स्थिति, मुख्यमंत्री चलित संयंत्र योजना के डीपीआर, सुपेबेड़ा समूह जल प्रदाय योजना, गिरौदपुरी धाम समूह योजना तथा चंदखुरी समूह जल प्रदाय योजना की अद्यतन प्रगति की जिलेवार जानकारी चाही थी। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सभी अधिकारी जिम्मेदारी से कार्यों का समय-सीमा में सम्पादन करें।

उल्लेखनीय है कि उन्होंने पूर्व में हुए बैठक में अधिकारियों को अंतिम चेतावनी देते हुए 31 अक्टूबर तक सभी कार्य को पूरा कर अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए थे अन्यथा संबंधित जिम्मेदार अधिकारी पर कठोर से कठोर कार्रवाई किए जाने की बात कही थी। इस अवसर पर रायपुर, बिलासपुर और जगदलपुर परिक्षेत्र के मुख्य अभियंता सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। 

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...