जोन आंदोलन को फिर याद रखने की बारी…15 जनवरी को धरना प्रदर्शन… जोन की वर्तमान स्थित पर होगी चर्चा

बिलासपुर—- रेल जोन आंदोलन को चिर स्थायी बनाने और आंदोलनसे जुड़े लोगों के सम्मान में 15 जनवरी को जगमल चौक पर धरना प्रदर्शन किया जाएगा।  कांग्रेस नेता अभयनारायण राय ने बताया कि काफी परेशानियों के बाद बिलासपुर को रेल जोन हासिल हुआ। लेकिन जोन की कार्यप्रणाली से प्रदेश और खासकर बिलासपुर की जनता अंसतुष्ट है। क्योंकि आंदोलन के बाद बिलासपुर को जोन तो मिला। लेकिन जनता आज भी उचित सुविधाओं को लेकर वंचित है। सर्वाधिक राजस्व देने वाला बिलासपुर आज भी उपेक्षआ का शिकार है।

               कांग्रेस नेता अभय नारायण राय ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि 15 जनवरी 1996 की याद में आंदोलनकारियों के सम्मान में महाप्रबंधक कार्यालय के सामने जगमल चैक में एक से तीन बजे के बीच जोन कार्यालय के सामने प्रदर्शन किया जाएगा। इस दौरान 25 साल पुराने रेल जोन के लिए किए गए ऐतिहासिक धरना प्रदर्शन और आन्दोलन को याद किया जाएगा। इस दौरान रेल जोन आंदोलन में शामिल तत्कालीन समय के जिम्मेदार लोगों को ना केवल याद किया जाएगा। बल्कि उनके प्रति सम्मान भी जाहिर किया जाएगा।

                 अभय नारायण राय ने बताया कि आज से 25 साल पहले रेल जोन आंदोलन की याद में 15 जनवरी को धरना प्रदर्शन छात्र युवा जोन संघर्ष समिति के बैनर तले किया जाएगा। छात्र जोन संघर्ष समिति के सदस्य अभय नारायण राय ने बताया कि आंदोलन में छात्र युवा जोन संघर्ष समिति के सभी सदस्य और लासपुर के गणमान्य लोग विशेष रूप से मौजूद रहेंगे।

           इस दौरान आंदोलन को याद करने के साथ ही वर्तमान  बिलासपुर जोन की कार्यप्रणाली को लेकर चर्चा होगी। भारतीय रेल का निजीकरण रेल के इतिहास में पहलीबार निजी ट्रेन का परिचालन का लिया गया। इसके अलावा रेलवे जोन बिलासपुर के यात्री सुविधाओं में लगातार कटौती हो रही है। लोकल ट्रेनों के रख रखाव मरम्मत के नाम पर कभी भी ब्लाक घोषित किया जाता है। परिचालन बंद कर दिया जाता है। जोन बनने के दो दशक बाद भी कई महानगरों के लिए सीधी ट्रेन का नही होना परिचर्चा का विषय होगा। 

                    अभय नारायण राय, सुदीप श्रीवास्तव महेश दुबे, समेत अन्य नेताओं ने बताया कि रेलवे मजदूर संगठन और शहर के जनप्रतिनिधि, व्यापारिक संगठन, स्थानीय जनता महसूस करती है कि रेलवे जोन बिलासपुर में सुधार की बहुत गुंजाइश है। जिन लोगो ने रेल्वे जोन आंदोलन को समर्थन दिया उनसे अपील है कि धरना प्रदर्शन और परिचर्चा में शामिल होकर अपनी बातों को बेबाकी से रखें।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...