किसने कहा धरमलाल ने किया जनता का अपमान..क्यों कहा..भूल गए 15 साल की कहानी..अब दे रहे आरएसएस का लेक्चर

महामंत्री अटल श्रीवास्तव ,congress,bilaspur,news,atal shriwasvata,भाजपा सांसद,छत्तीसगढ़ राज्य, बिलासपुर जिले,
बिलासपुर—-कांग्रेस नेताओं ने विधानसभा नेता प्रतिपक्ष  धरमलाल कौशिक के बयान की निंदा की है। कांग्रेस नेताओं ने कहा है कि नेता प्रतिपक्ष  हवाई सेवा जन संघर्ष समिति के आंदोलन को राजनीतिक बताकर अपनी कमजोरियों पर पर्दा डाल रहे हैं। सच्चाई तो यह है कि हवाई सेवा संघर्ष आंदोलन का किसी भी राजनीतिक व्यक्ति या पार्टी से सरोकार नहीं है। पिछले 3 माह से बिलासपुर में अखण्ड जन  आंदोलन केवल और केवल बिलासपुर के लोग और अपनी मांग को लेकर कर रहे हैं। आंदोलन को राजनीतिक बताकर धरमलाल कौशिक बिलासपुर की जनता का अपमान किया है। जबकि उन्होने एक भी दिन धरना आंदोलन देकर समर्थन नहीं किया। इससे जाहिर होता है कि धरमलाल कौशिक अपनी सरकार की गलतियों को लेकर ना केवल शर्मिन्दा हैं। बल्कि अब आंदोलन पर लांछन भी लगा रहे हैं। जनता कभी भी माफ नहीं करेगी। 
 
                     कांग्रेस प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष को 13 माह का हिसाब तो मालूम है। लेकिन 14 माह पहले तक की 15 साल वाली कहानी याद नही है। खुद धरमलाल कौशिक विधान सभा अध्यक्ष हुआ करते थे। चकरभाठा हवाई पट्टी भी उन्ही के विधानसभा क्षेत्र में है। लेकिन नेता प्रतिपक्ष ने चकरभाठा हवाई पट्टी के विकास को लेकर कभी ध्यान ही नहीं दिया। कभी भी नियमित विमान सेवा की मांग को लेकर चर्चा नहीं की। मांग करने का सवाल ही नहीं उठता है। 
    
                अटल श्रीवास्तव ने बताया कि धरमलाल कौशिक को तो याद ही होगा कि केंद्र और राज्य में  भाजपा की सरकार थी। आज भी केंद्र में भाजपा की ही सरकार है। लेकिन किसी भी भाजपा नेता ने हवाई सेवा सुविधा को लेकर मुंह तक नहीं खोला। निश्चित रूप से ऐसा करना समझ से परे हैं। 
 
                अटल श्रीवास्तव ने बताया कि आंदोलन के लगभग ढाई माह बाद सांसद अरुण साव को आंदोलन में आने के लिए फुर्सत मिली। जबकि नेता प्रतिपक्ष विधानसभा में अपना विपक्ष का दायित्व भी बिलासपुर के प्रति ठीक से नहीं निभाया है। चाहते तो बिल्हा विधानसभा क्षेत्र में स्थित चकरभाठा हवाई सेवा को लेकर बिलासपुर की आवाज को रख सकते थे। लेकिन उन्होने नही किया। आज जनता अपने अधिकार की मांग के लिए जब उठ खड़ी हुई है। तो धरम लाल कौशिक अपनी और अपनी पार्टी की विफलता को लेकर जनता को अपमानित करना शुरू कर दिया है। और केंद्र सरकार से स्वीकृत राशि की बात कर रहे है । लेकिन यह नहीं बता रहे है कि राशि कितनी और कब स्वीकृत हुई है।
 
              अटल ने कहा कि चकरभाठा एयरपोर्ट में जितनी भी समस्या है , प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से इसके मूल में पूर्ववर्ती भाजपा सरकार ही है। जानबूझ कर ठोस कार्रवाई नहीं की गयी। जबकि केंद्र और राज्य में भाजपा की सरकारे थी। लेकिन भाजपा के  स्थानीय बड़े नेताओं की आपसी खींचातानी से फुरसत ही नहीं मिली।
 
                    दरअसल नेता प्रतिपक्ष अपने मातृ संस्था आरएसएस की तर्ज पर बयान दे रहे हैं। अपनी अकर्मण्यता और निष्क्रियता से बचने के लिए काम करने वालो पर आरोप लगाओ और बदनाम करो कर रहे हैं। जबकि हवाई सेवा की मांग की आवश्यकता को देखते हुए राज्य सरकार ने अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तुरंत 27 करोड़  स्वीकृति की घोषणा की। ताकि हवाई सेवा की मांग को आगे बढ़ाया जा सके। लासपुर सहित आसपास के लोगो को इसका लाभ मिल सके। 
 
           
                  अटल ने कहा शायद मुख्यमंत्री की घोषणा से नेता प्रतिपक्ष तिलमिला गए हैं। आंदोलन को राजनीतिक रंग देकर दिशाहीन करने का प्रयास कर रहे है । नेता प्रतिपक्ष को जन मुद्दे पर राजनीति नही करते हुए आंदोलन को मूर्त रूप देने में अपनी भूमिका अदा करनी चाहिए। यदि ऐसा करते है तो बिलासपुर वासियों की मांग को बल मिलेगा। साथ ही बिलासपुर विकास का विकास भी तेजी से होगा। 

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...