बलात्कार के मुख्य समेत सभी 6 आरोपी पकड़ाए..3 नाबालिग शामिल ..रायपुर भागने के फिराक में थे दुष्कर्मी

बिलासपुर—- जिला पुलिस ने 26 जनवरी को बिरकोना में सामुहिक बलात्कार के सभी आरोपियों को पकड़ लिया है। पकड़े गए 6 आरोपियों में तीन नाबालिग भी शामिल हैं। सभी आरोपियों को 24 घंटे के अन्दर हिरासत में लेकर न्यायालय के हवाले किया गया।

           पुलिस खुलासा के अनुसार 26 जनवरी को थाना पहुंचकर नाबालिग पीडिता परिजनों के साथ थाना पहुंचकर आरोपियों के खिलाफ बलात्कार करने की रिपोर्ट लिखाई। पीड़िता ने बताया कि वह अपनी छोटी बहन के साथ देवकीनन्दन स्कूल 26 जनवरी की सांस्कृतिक कार्यक्रम देखने गयी थी। लौटते समय जबड़ापारा में उसके पड़ोसी दीपक सिंह और उसके साथियों ने अपनी कार में बैठाकर छोड़ने की बात कही। पड़ोसी होने के कारण उसकी गाड़ी में बैठ गयी। लेकिन कार को बिरकोना के सूनसान इलाके में जाकर रोका। कार में ही सबके साथ चाउमीन और कोल्डड्रिक भी पिलाया गया। 

                 पुलिस के अनुसार पीडिता ने बताया कि दीपक सिंह इस बीच अपने साथियों को भी बुला लिया। इस बीच वह टायलेट जाने के लिए कार से उतरी। दीपक ने उसे टायलेट दिखाने एक जर्जर मकान में ले गया। इस दौरान उसने मारा पीटा और दुष्कर्म भी किया। साथ ही किसी को बात नहीं बताने को कहा। बाद में अन्य आरोपियों ने पीड़िता और उसकी बहन को पुराना पुल सरकंडा के पास छोड़कर चले गए। घर पहुंचने के बाद घटना की जानकारी अपने माता पिता को। इसके बाद माता पिता ने थाना पहुंचकर शिकायत दर्ज करायी। पीड़िता की शिकायत पर सरकंडा थाना में आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 376,34 और पास्कों एक्ट 4,5 के तहत अपराध दर्ज किया गया। 

                       मामले की जानकारी के बाद पुलिस कप्तान प्रशांत अग्रवाल ने ओपी शर्मा और सीएसपी निमेष बरैया की अगुवाई में टीम गठन कर आरोपियों को जल्द पकड़ने का निर्देश दिया।  पुलिस कप्तान के निर्देश के बाद टीम ने अरपा पुल के आसपास और अशोक नगर से बिरकोना तक के सीसीटीवी की जांच पडताल की। जांच पडताल के दौरान जानकारी मिली कि आरोपी आई-10 सीजी क्रमांक 13सी,3331 कार से पीड़िता को बिरकोना ले गए। कार किसी दीपक सिंह ठाकुर की है। दीपक सिंह जबडापारा का रहने वाला है। दबिश देने पर जानकारी मिली कि वह फरार हो चुका है।

                 इसी बीच पुलिस को जानकारी मिली कि दीपक सिंह राजकिशोर नगर में अपने दोस्त के घर में छिपा है। कार से रायपुर भगने की तैयारी कर रहा है। तत्काल छापा मारकर दीपक सिंह को हिरास्त में लिया गया। ओपी शर्मा ने बताया कि आरोपी दीपक सिंह ने पूछताछ के दौरान बताया कि योगेश शर्मा, राहुल देवांगन समेत तीन अन्य आरोपियो के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया है। टीम ने तत्काल दबिश देकर तीनों नाबालिगों को अरपा नदी के पास से हिरास्त में लिया। इसके अलावा फरार तीन अन्य आरोपियों योगेश वर्मा और राहुल देंवागन को जो लगातार लोकेशन बदल रहे थे। साइबर सेल की मदद से बिल्हा रायपुर रोड में घेराबन्दी कर पकड़ा गया। 

          पुलिस जानकारी के अनुसार योगेश वर्मा पिता भुवनेश्वर सिंह उम्र 20 साल,दीपक सिंह पिता अग्रसेन सिंह उम्र 20 साल, राहुल देवांगन पिता रमेश कुमार देवांगन उम्र 21 साल सभी जबड़ापारा के रहने वाले है।

 

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...