12 इलेक्ट्रॉनिक कम्पनियां आएंगी नया रायपुर

3रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की अध्यक्षता में गुरुवार को उनके निवास में इलेक्ट्रॉनिक्स क्षेत्र की 11 कम्पनियों और खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र की एक कम्पनी और राज्य सरकार के उद्योग विभाग के मध्यम लगभग 1093 करोड़ रूपए के पूंजी निवेश के लिए एम.ओ.यू. पर हस्ताक्षर किए गए। राज्य में इलेक्ट्रानिक्स के क्षेत्र में निवेश को बढ़ावा देने हेतु किये गये प्रयासों के फलस्वरुप इलेक्ट्रानिक्स के निवेशकों द्वारा राज्य में निवेश की रुचि प्रदर्शित की गई है। इलेक्ट्रॉनिक्स के क्षेत्र की 11 कंपनियों के साथ 968 करोड़ रूपए के निवेश के लिए एम.ओ.यू. किए गए। ये कम्पनियां अपने इलेक्ट्रानिक कम्पोनेंट विनिर्माण की इकाईयां नया रायपुर में इलेक्ट्रानिक मेन्यूफेक्चरिंग क्लस्टर में स्थापित करेंगी। इसके साथ ही राज्य में 125 करोड़ रूपए के निवेश से खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में कोल्ड चेन की स्थापना के लिये भी एम.ओ.यू. किया गया।  इन इकाईयों की स्थापना से लगभग 4300 लोगों को रोजगार के अवसर मिलेंगे। इस अवसर पर वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री  अमर अग्रवाल, छत्तीसगढ़ औद्योगिक विकास निगम के अध्यक्ष छगनलाल मुंदड़ा, प्रमुख सचिव अमन सिंह सहित शासन के वरिष्ठ अधिकारी और कम्पनियों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

1                                   नया रायपुर के इलेक्ट्रॉनिक मेन्यूफेक्चरिंग क्लस्टर में इन एम.ओ.यू. के तहत स्थापित होने वाली इकाईयों में एल.ई.डी., एल.सी.डी, मोबाइल, टेबलेट, एल.ई.डी. लाईट्स, सौर ऊर्जा और पवन ऊर्जा उपकरण आदि का उत्पादन किया जाएगा।राज्य शासन की ओर से एम.ओ.यू. पर वाणिज्य एवं उद्योग विभाग के सचिव सुबोध कुमार सिंह एवं कोल्ड चेन स्थापना के लिये बीएसएल फ्रेट लाजिस्टिक साल्यूशन प्रा.लि. जो कि ट्रांसवर्ल्ड ग्रुप का हिस्सा है के  रितेश रामकृष्णन,  मोबाईल व इलेक्ट्रानिक उपकरण विनिर्माण के लिये सुक्रोही इंटरनेशनल के सुनिल अग्रवाल, टेबलेट विनिर्माण के लिये आई.के.एफ. टेक्नालाजीस लिमि के जी.एन.गुप्ता, एलईडी उत्पाद के लिये पी.व्ही.व्ही. इन्फ्रा लि. की ओर से पी.वी.वी. सत्यनारायण, सोलर पेनल व एलईडी विनिर्माण के लिये उर्जा ग्लोबल लिमि. के श्री एस.के.जैन, एल.ई.डी. लाईट विनिर्माण के लिये ईन-ग्लोबल रिर्सोसेस के सुनिल अग्रवाल, एलईडी उत्पादांे  के लिये इंडोवेशन टेक्नालाजी लिमिटेड के श्री संजीव शर्मा, एल.ई.डी. विनिर्माण के लिये राईज़िंग सोलर के रतन सिंह द्वारा हस्ताक्षर किये गये ।
2इन सभी एम.ओ.यू. के क्रियान्वयन से राज्य में इलेक्ट्रानिक एवं खाद्य प्रसंस्करण कोल्ड चेन के क्षेत्र में 1093 करोड़ रूपए का निवेश संभावित है। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि राज्य शासन इलेक्ट्रानिक्स एवं खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र के प्रोत्साहन एवं विकास देने के लिये कृतसंकल्पित है। इन इकाईयों के स्थापना के लिए सभी सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। यह राज्य में निवेश का महत्वपूर्ण क्षेत्र हैं, इनसे राज्य के युवाओं को बड़ी संख्या में रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे और साथ ही कोल्ड चेन की स्थापना से कृषि उत्पादों को नष्ट होने के कारण होने वाले नुकसान को रोका जा सकेगा। खाद्य उत्पादों के परिरक्षण की सुविधा उपलब्ध होने से स्थानीय कृषकों, उद्यमियों एवं व्यापारियों को लाभ होगा। इस निवेश से जहां एक ओर नये निवेश क्षेत्र विकसित होंगे वहीं राज्य के आर्थिक एवं सामाजिक विकास के साथ बड़ी संख्या में रोजगार सृजन भी होगा । उन्होंने कम्पनियों के प्रतिनिधियों से कहा कि वे एम.ओ.यू. का क्रियान्वयन तेजी से करते हुए छत्तीसगढ़ में अपनी इकाईयां स्थापित करें।
सभी इलेक्ट्रानिक उत्पाद निर्माण करने वाली इकाईयां छत्तीसगढ़ स्टेट इण्डस्ट्रियल डेव्हलपमेंट कार्पोरेशन लिमि. द्वारा नया रायपुर में 70 एकड़ भूमि पर विकसित किये जा रहे ‘‘इलेक्ट्रानिक मेन्यूफेक्चरिंग क्लस्टर’’ में स्थापित की जाएंगी । ‘‘इलेक्ट्रानिक मेन्यूफेक्चरिंग क्लस्टर’’ की स्थापना के लिये भारत सरकार, इलेक्ट्रानिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग से सैद्धांतिक स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है। यह क्लस्टर नया रायपुर में सेक्टर 22 में एयरपोर्ट के पास स्थापित हो रहा है। इस क्षेत्र में अत्याधुनिक सुविधाएं वेयरहाउस, हॉस्टल, ट्रेनिंग सेंटर, टूल रुम, सालिड वेस्ट मैनेजमेंट, फ्लैटैड फैक्ट्री, अपशिष्ट प्रबंधन संयंत्र एवं सपोर्ट सर्विस सेंटर आदि उपलब्ध होंगी।  इस अवसर पर चिप्स के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सौरभ कुमार, संचालक उद्योग कार्तिकेय गोयल और छत्तीसगढ़ औद्योगिक विकास निगम के प्रबंध संचालक श्री सुनिल मिश्रा भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *