सूत्र ने बताया…यह कांग्रेस है..उलटफेर नहीं तो अरूण चौहान पक्का.. लेकिन सुबह ही होगा नाम का एलान..

बिलासपुर—– जिला पंचायत अध्यक्ष नाम को लेकर देर शाम तक पर्यवेक्षक करूणा शुक्ला ने एक एक सदस्यों से अकेले में बातचीत की। सभी 22 सदस्यों ने हॉटल सेन्ट्रल पाइंट मेंआयोजित बैठक के दौरा्न करूणा शुक्ला को अपनी पसंद और नापसंद को जाहिर किया। खबर लिखे जाने तक अन्दर की खबर पर विश्वास करें तो जिला पंचायत अध्यक्ष के पद के लिए अरूण चौहान की ताजपोशी लगभग निश्चित है। यद्यपि लोगों का कहना है कि यह कांग्रेस पार्टी है…इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि देर रात किसी एक नाम पर फैेसला हो। और सुबह ठीक नौ बजे किसी दूसरे नाम का एलान हो जाए। क्योंकि जितेन्द्र पाण्डेय ने हिम्मत नहीं हारी है। और अंकित गौरहा और त्रिलोक श्रीवास की दावेदारी फिलहाल बरकरार है।

                         13 फरवरी को शाम चार बजे से पर्यवेक्षक और पूर्व सांसद करूणा शुक्ला की हाटल सेन्ट्रल पाइंट में जिला पंचायत नवनिर्वाचित सदस्यों के साथ सामुहिक और अलग अलग बैठक हुई है। बैठक देर शाम तक चली।

                 सामुहिक बैठक में चुनाव पर्यवेक्षक करूणा शुक्ला ने जिला पंचायत सदस्यों से बातचीत की। इसके बाद सभी सदस्यों से बारी बारी कर मुलाकात की। सदस्यों ने करूणा शुक्ला को अपनी पसंद से अवगत कराया। यद्यपि इस दौरान अंकित गौरहा और स्मृति श्रीवास ने दावेदारी की बात कही। साथ ही अपनी पसंद को भी जाहिर किया है। 

                         जानकारी के अनुसार जितेन्द्र पाण्डेय ने करूणा शुक्ला के सामने पुरजोर तरीके से दावैेदारी की है। कांग्रेस के प्रति अपनी वफादारी और उपयोगिता को गिनाया है। जितेन्द्र ने यह भी कहा कि सदस्यों की संख्या भी उनके साथ है।

          अन्दरखाने की खबर माने तो अरूण चौहान फिलहाल खबर लिखे जाने तक 13 सदस्यों की पसंद बताए जा रहे है। सूत्र के अनुसार करीब 16 सदस्य इस दौरान मौजूद थे। बताया जा रहा है कि पीसीसी महामंत्री अटल श्रीवास्तव का अरूण चौहान को समर्थन है। यद्यपि जितेन्द्र का दावा है कि मुख्यमंत्री को उन्हे आशीर्वाद है। बावजूद इसके यदि सुबह 9 बजे तक उलटफेर नहीं हुआ तो अरूण चौहान का जिला पंचायत अध्यक्ष बनना निश्चित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *