संविदा भर्ती घोटालाः कमिश्नर ने दिया जांच का आदेश..ICPS में खलबली..

बिलासपुर—- महिला एवं बाल विकास विभाग कमिश्नर रायपुर ने आईसीपीएस संविदा भर्ती घोटाला में जांच का आदेश दिया है। सूत्रों के अनुसार महिला एवं बाल विकास जिला कार्यक्रम अधिकारी के मार्गदर्शन में जांच की कार्रवाई होगी। यद्यपि जिला कार्यक्रम अधिकारी ने जांच की बात कही है। लेकिन नहीं बताया कि जांच के बिन्दु और क्षेत्र क्या होगा। उन्होने कहा कि जल्द ही जांच के बाद सभी जानकारियों को साझा किया जाएगा।

                     जानकारी हो कि साल 2015-16 में जिला एकीकृत बाल संरक्षण ईकाई में जिला बाल संरक्षण अधिकारी समेत समिति के अन्य पदाधिकारियों और सदस्यों की संविदा आधार पर नियुक्ति हुई। तात्कालीन समय संविदा पद पर जिला बाल संरक्षण अधिकारी पार्वती वर्मा की नियुक्ति हुई। इसके अलावा जिला बाल संरक्षण के अन्य पदों पर भी भर्ती की प्रक्रिया पूरी की गयी। समिति में संविदा पर विधिज्ञ सह पर्यवेक्षक अधिकारी, संस्थागत संरक्षण अधिकारी, गैर संस्थागत संरक्षण अधिकारी समेत आउट रिच पदों को भरा गया। बताते चलें कि जिला बाल संरक्षण समिति के पदेन अध्यक्ष जिला कलेक्टर और पदेन सचिव जिला कार्यक्रम अधिकारी होते है।

               बताते चलें की साल 2015-16 में हुई संविदा पदों की भर्ती के दौरान नियम और निर्देश को ताक पर रखकर पदों की बंदरबांट की गयी। इसी दौरान जानकारी मिली कि जिला बाल संरक्षण अधिकारी पार्वती वर्मा को जिला महिला बाल विकास विभाग से साल 2014 में शासन ने एक आदेश जारी करते हुए पर्यवेक्षक पद से बर्खास्त कर दिया था। पार्वती वर्मा पर पर्यवेक्षक रहने के दौारन जांच में गंभीर गलतियां की थी। बावजूद इसके पार्वती वर्मा को जिला बाल संरक्षण अधिकारी का संविदा पद दिया गया। जबकि नियम के अनुसार उनकी नियुक्ति  संभव नहीं है। इसके अलावा यह भी जानकारी मिली कि संविदा पदों की भर्ती के समय अन्य लोगों को भी नियम और निर्देशों को ताक पर रखकर नौकरी दी गयी है। 

कमिश्नर ने दिया जांच का आदेश

                    सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सीजी वाल में खबर प्रकाशित होने के बाद विभाग के कमिश्नर ने मामले में जांच का आदेश दिया है। जिला कार्यक्रम अधिकारी जांच कार्रवाई के बाद जानकारी कमिश्नर को देंगे। बहरहाल इस बात की अभी तक जानकारी नहीं मिल पायी है कि जांच के बिन्दु क्या है। यदि टीम का गठन किया गया है तो उसमें कितने सदस्य होंगे। और रिपोर्ट कब तक पेश करेंगे।

प्रशासन ने दिया जांच का आदेश–सुरेश सिंह

               मामले में जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि हमें भी जानकारी मिली है कि संविदा भर्ती में कुछ गड़बड़ी हुई है। प्रशासन से जांच का आदेश मिला है। जल्द ही जांच के बिन्दु तय कर प्रक्रिया को पूरी की जाएगी। रिपोर्ट पेश किया जाएगा।             

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...