मोदी के बनारस में वस्त्रदान फाउंडेशन का अभियान..कार्यकर्ताओं ने बताया.. सामान्य स्थिति होने तक बांटेंगे खाना

वाराणसी—- प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लोकसभा क्षेत्र वाराणसी में शासन प्रशासन ने लाकडाउन के दौरान राहत बचाव कार्य को लेकर पूरी ताकत झोंक दी है। राहत बचाव कार्य अभियान के बीच स्वयंसेवी संगठन भी खुले दिल से गरीबों के बीच पहुंच रहे हैं। यथोचित सहयोग कर रहे हैं। कैम्प लगाकर लोगों को कोरोना के खिलाफ जागरूक करने के साथ ही भोजन और राशन सामाग्री का वितरण कर रहे हैं। क्षेत्र में वस्त्रदान फाउंडेशन की भूमिका को लेकर शासन प्रशासन ने संतोष जाहिर किया है।
     
                          कोरोना वायरस प्रकोप के बाद देश पिछले 11 दिनों से लॉकडाउन मे है। लाकडाउन की स्थिति 14 अप्रैल तक रहेगी। इस दौरान गरीबों, भिखारियों समेत दिहाड़ियों के सामने विषम परिस्थिति पैदा हो गयी है। यद्यपि शासन प्रशासन स्तर पर सभी लोगों के बीच भोजन और राशन का वितरण किया जा रहा है। साथ ही स्वयंसेवी संगठन भी जमकर सक्रिय है। 
 
             इसी क्रम में बनारस मे वस्त्रदान फांउडेशन के बैनर तले स्वयंसेवक बनारस की गलियों में घूम घूम कर रोजाना पांच सौ  से अधिक लोगों के बीच भोजन और राशन का वितरण कर रहे हैं। खासकर मालिन बस्तिओ और सडक किनारे रह रहे असहाय लोगो के बीच वस्त्रदान फांउडेशन के कार्यकर्ता लगातार भोजन वितरण का कार्य कर रहे हैं।
 
          वस्त्रदान फांउडेशन के संस्थापक  ने सुधांशु सिंह ने बताया कि संस्था का एक ही मक्सद..कोई भी व्यक्ति भूखा ना रहे। हमारे वालेंडियर रोजाना काशी मे रहने वाले सभी जरूरतमंद लोगो को भोजन मुहैया करा रहे हैं। रोज अलग अलग प्रकार का भोजन गरीबों में बांटा जा रहा है। साथ ही लोगों को कोरोना वायरस के खिलाफ सावधानी से भी परिचित कराया जा रहा है। बताया जा रहा है कि भीड़ भाड़ क्षेत्र से बंटे..आपस में निश्चित दूरी बनाकर रखें।
 
                     वस्त्रदान फाउंडेशन के कार्यकर्ता सुधीर यादव , विशाल विशवकर्मा , सुधांशु सिंह , सुमित राय निशात सिंह , सुरेश यादव ,राजकुमार यादव राजेश यादव दीपक यादव , धर्मेंद्र पटेल समेत अन्य लोगों ने बताया कि जब तक कोरोना से जंग नहीं जीत जाते हैं और जन जीवन सामान्य स्थिति में नहीं लौटती है तब तक हम गरीबों के बीच अपने अभियान को बनाकर रखेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *