कानन पेण्डारी में हिरण की मौत..मेयर और डीएफओ ने कहा..मौत का कारण अधिक उम्र..सेनेटाइज्ड करेंगे मिनी जू

बिलासपुर—- सुबह करीब 11 और 12 के बीच कानन पेण्डारी में हिरन की मौत की लोगों को जानकारी मिली। जानकारी के बाद एक अफवाह भी सामने आआ कि मौत का कारण कोरोना वायरस है। खबर मिलने के बाद महापौर रामशरण यादव ने कानन पेण्डारी का दौरा किया। वन विभाग अधिकारियों ने बताया कि अधिक उम्र होने के कारण हिरण की मौत हुई है। 
 
              कानन पेण्डारी में हिरण की मौोत के साथ ही एक बार फिर सनसनी फैल गयी। जानकारी के बाद महापौर रामशरण यादव कानन पेन्डारी पहुंच गए। पूछताछ के दौरान वन अधिकारियों ने बताया कि हिरण की उम्र बहुत अधिक थी। कानन मिनी जू में सबसे उम्र दराज हिरण था। इस बीच उसकी देखरेख भी हो रही थी। मौत की वजह अधिक उम्र का होना है।
  
                                        कानन पेण्डारी दौरा के दौरान मेयर रामशरण यादव और सभापति शेख नजरूद्दीन ने अन्य गतिविधियों की भी जानकारी ली। जानवरों की सुरक्षा को लेकर भी बातचीत की।
 
                इस दौरान फोन से ही मेयर की बातचीत डीएफओ सत्यप्रकाश दुबे से भी हुई। डीएफओं ने बताया कि जू में सभी जानवराों की सुरक्षा भली भांति की जा रही है।
 
किया जाएगा सेनेटाइज्ड
       
                       मेयर ने बताया कि वन विभाग ने कानन पेण्डारी को भी सेनेटाइज्ड किए जाने की मांग की है।मंगलवार को 12 बजे टैंकर भेजा जाएगा। हिरण की मौत का कारण अधिक उम्र का होना है। इसमें किसी प्रकार की सच्चाई नहीं है कि हिरण की मौत कोरोना वायरस से हुई है।
  
उम्र अधिक थी—डीएफओ
 
           वनण़्डलाधिकारी सत्यप्रकाश दुबे ने बताया कि हिरण की उम्र बहुत अधिक थी। उसने अपनी पूरी जिन्दगी को पूरा किया है। मौत का कारण स्वाभाविक है। हमने महापौर से कानन पेन्डारी को भी सेनेटाइज्ड किए जाने की मांग की है। मंगलवार को कानन पेण्डारी को सेनेटाइज्ड किया जाएगा।
loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...