जशपुर जिले में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ MDM के दाल -चावंल का वितरण , अधिकारियों ने किया आकस्मिक निरीक्षण

जशपुर नगर । छत्तीसगढ़ राज्य शासन के आदेश के परिपालन में एवं जिला कलेक्टर निलेश महादेव क्षीरसागर  के मार्गदर्शन  में सोमवार को जिले के सभी आठों विकास खंडों की शालाओं में छात्र . छात्राओ को  मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम के तहत 40 दिनों  के सूखी चावल एवं सूखी दाल वितरण का कार्य प्रारंभ हुआ।मध्यान्ह भोजन के वितरण की वस्तुस्थिति का अवलोकन जिले के अधिकारियों एवं विभागीय अधिकारी ,जनपद के अधिकारी एवं विकास खंड शिक्षा अधिकारी एवं विकासखंड समन्वयक एवं संकुल के सभी शैक्षिक समन्वयको के द्वारा  किया जा रहा है।

वितरण में अभी तक प्राप्त सूचना के अनुसार कहीं कोई कमी नहीं पाई गई है । निरीक्षण के क्रम में जिला शिक्षा अधिकारी एन कुजुर एवं जिला समन्वयक विनोद  पैकरा एवं मनोरा विकास खंड शिक्षा अधिकारी लक्ष्मण शर्मा के  द्वारा आकस्मिक निरीक्षण किया गया । मनोरा विकासखंड के संकुल सोगड़ा, मनोरा ,भीमशिला आस्ता के लगभग 30-35 शालाओं का भ्रमण किया गया।अधिकारियों द्वारा जिन जिन शालाओं का निरीक्षण किया गया ,उन शालाओं के शिक्षक राज्य शासन एवं जिला प्रशासन द्वारा निर्धारित समय अवधि में उपस्थित मिले । साथ ही साथ दिए गए दिशा निर्देश के अनुसार कार्य करते पाए गए । निरीक्षण के दौरान अधिकारियों ने स्व सहायता समूह के द्वारा प्रदान किए गए दाल की गुणवत्ता तथा पंचायत द्वारा प्रदाय चावल की गुणवत्ता का अवलोकन किया । जिससे सभी अधिकारी , शिक्षको के कर्तव्य तथा सामग्री की गुणवत्ता से संतुष्ट हुए। अधिकारियों ने छात्रों को वितरण की जा रही है। सामग्री की मात्रा की जानकारी शिक्षकों से ली । जिसमें पाया गया की प्राथमिक शाला में प्रति छात्र 4 किलो चावल और 800 ग्राम दाल तथा उच्च प्राथमिक शाला में प्रति छात्र 6 किलो चावल एवं 1 किलो 200 ग्राम दाल वितरण किया जा रहा है। इस समय शाला प्रबंध समिति के कुछ सदस्य भी उपस्थित मिले।सामग्री वितरण मुख्य रूप से शिक्षकों के द्वारा किया जा रहा है। अभिभावक शाला पहुंचकर सामग्री  प्राप्त कर रहे हैं । साथ ही जिन छात्रों के अभिभावकों द्वारा सामग्री प्राप्त नहीं किया गया , वहां शिक्षक सीधे छात्रों के घर पहुंचकर भी सामग्री वितरण  कर रहे हैं।
पालकों को सामग्री वितरण मे लाकडाउन तथा सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए कार्य किया जा रहा है।
निरीक्षण किए गए शालाओं में संकुल केंद्र सोगड़ा के अंतर्गत पूर्व माध्यमिक शाला डुमरटोली ,प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक शाला सोगड़ा, संकुल केंद्र भीमसीला अंतर्गत प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक शाला भीमसीला और प्राथमिक शाला बेलडीह , संकुल केंद्र आस्ता अंतर्गत प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक शाला आस्ता, संकुल केंद्र ढेंगनी अंतर्गत प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक शाला ढेंगनी आदि अनेक शालाओं का निरीक्षण किया गया..मध्यान्ह भोजन के वितरण व्यवस्था एवं गुणवत्ता से अधिकारी संतुष्ट नजर आए ।

loading...
loading...

Comments

  1. By Anil kumar yadav

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...