कलेक्टर ने ली कोर कमेटी की बैठक,19 अप्रैल तक जिले की सीमायें पूरी तरह सील,5 चेकपोस्ट पर होगी कड़ी जांच

दंतेवाडा।दंतेवाड़ा जिले में तत्काल प्रभाव से 19 अप्रैल को दोपहर 2 बजे तक बाहर से आने वाले लोगों पर पूर्णतः प्रतिबंध लगाया जाये। अन्य प्रान्तों या अन्य जिलों से आने वाले लोगों को सम्बन्धित चेकपोस्ट पर कड़ी जांच कर उन्हें क्वारन टाइन सेंटर में रखा जाये।इस दिशा में जिले के गीदम, बड़ेसुरोखी,कटेकल्याण, भूसारास और अरनपुर में चेकपोस्ट बनाकर कड़ाई के साथ जांच किया जाये। वहीं स्वास्थ्य विभाग के दल द्वारा सम्बन्धित लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण कर उन्हें क्वारन टाइन सेंटर में रखा जाये। जिले के अंतर्गत दुपहिया में एक व्यक्ति से अधिक सवारी यात्रा नहीं करेंगे और चौपहिया वाहन में ड्राइवर के साथ केवल दो व्यक्ति ही यात्रा करेंगे।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्एप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये

इस हेतु राजस्व, पुलिस विभाग, परिवहन विभाग सहित अन्य विभागों के द्वारा समन्वित ढंग से कार्यवाही सुनिश्चित किया जाये। उक्त निर्देश कलेक्टर श्री टोपेश्वर वर्मा ने कलेक्टोरेट में आयोजित जिला स्तरीय कोर कमेटी की बैठक के दौरान अधिकारियों को दिया। बैठक में पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव, सीईओ जिला पंचायत श्री सच्चिदानंद आलोक, सीएमएचओ डॉ एसपी शाण्डिल्य, सिविल सर्जन डॉ एमके नायक सहित विभिन्न दायित्वों हेतु नियुक्त नोडल अधिकारी और जिले में पदस्थ एसडीएम, सीईओ जनपद पंचायत तथा नगरीय निकायों के सीएमओ मौजूद थे।

कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने कोरोना वायरस कोविड-19 के संभाव्य प्रसार के नियंत्रण एवं रोकथाम के मद्देनजर घोषित लॉक डाउन के बावजूद अन्य स्थानों से लोगों की आवाजाही पर रोक लगाने के लिए कड़े कदम उठाने पर बल देते हुए अधिकारियों को निर्देशित किया कि तत्काल प्रभाव से 19 अप्रैल को दोपहर 2 बजे तक पूरे जिले की सीमाओं को पूरी तरह सील कर दिया जाये। इस दौरान कोई भी व्यक्ति जिले की सीमा क्षेत्र में प्रवेश नहीं करेगा और न ही कोई व्यक्ति जिले की सीमा क्षेत्र से बाहर जायेगा। जिले की निर्धारित 5 चेकपोस्ट पर सघन जांच के लिए अधिकारियों-कर्मचारियों की रोस्टर अनुसार ड्यूटी लगायी जाये और आने-जाने वाले लोगों की कड़ाई से जांच किया जाये।

इन लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण भी अनिवार्य रूप से किया जाये। अन्य प्रदेशों या अन्य जिलों से आने वाले लोगों को सम्बन्धित स्थानों पर स्थापित क्वारन टाइन सेंटर में रखा जाये और उनकी देखरेख हेतु कर्मचारियों की ड्यूटी लगायी जाये। सम्बन्धित क्वारन टाइन सेंटर में उक्त लोगों के लिए रहने और भोजन की व्यवस्था सुनिश्चित किया जाये।

कलेक्टर श्री वर्मा ने इस हेतु सम्बन्धित स्थानों पर एक-एक भवनों का चिन्हांकन कर क्वारन टाइन सेंटर के लिए समुचित व्यवस्था किये जाने अधिकारियों को निर्देशित किया। कलेक्टर श्री वर्मा ने सोशल डिस्टेंस सम्बन्धी निर्देशों के परिपालन हेतु दुपहिया वाहनों में एक से अधिक सवारी पर प्रतिबंध लगाने के लिए कार्यवाही किये जाने का निर्देश अधिकारियों को दिया। वहीं चौपहिया वाहनों में ड्राइवर के साथ दो व्यक्तियों से अधिक लोगों की यात्रा प्रतिबंधित करने का निर्देश दिया।

इसके साथ ही बगैर मास्क के घर से बाहर निकलने वाले लोगों पर कार्रवाई किये जाने का निर्देश अधिकारियों को दिया। उन्होंने इस दिशा में गीदम, दन्तेवाड़ा, बचेली, किरन्दुल तथा बारसूर नगरीय ईलाकों में कड़ाई के साथ जांच कर कार्रवाई किये जाने का निर्देश अधिकारियों को दिया।बैठक के दौरान बगैर राशन कार्ड वाले परिवारों को निःशुल्क राशन एवं अन्य जरूरी खाद्य सामग्री की उपलब्धता, बेघर-निसहाय एवं निराश्रितों के लिए दोनों पहर भोजन की व्यवस्था, ठेले-गुमटी, खोमचे वाले तथा अन्य जरूरतमन्द लोगों को निःशुल्क राशन एवं खाद्य सामग्री की सुलभता, अन्य प्रान्तों एवं जिलों के मजदूरों और अन्य जरूरतमन्द लोगों के लिए राहत कैम्पों में ठहरने एवं भोजन व्यवस्था इत्यादि की समीक्षा की गयी। इन सभी लोगों के लिए आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित करने हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया गया। वहीं मनरेगा के तहत रोजगारमूलक कार्यों में अधिकाधिक पंजीकृत जॉब कार्डधारी परिवारों को रोजगार उपलब्ध कराये जाने के निर्देश अधिकारियों को दिये गए।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...