पंचायत सचिव-सरपंच ने प्राचार्य से लेकर शिक्षक तक सभी की लगा दी क्वॉरेंटाइन सेंटर में ड्यूटी ,फेडरेशन ने की कार्रवाई की मांग

रायपुर-जिला जांजगीर चांपा, विकासखण्ड अकलतरा के अंतर्गत ग्राम पंचायत किरारी के सरपंच और सचिव द्वारा गांव के कोरेनटाइन सेंटर में स्कूल के प्राचार्य, प्रधानपाठक व शिक्षकों की ड्यूटी लगाए जाने को लेकर छत्तीसगढ़ प्राथमिक शिक्षक फेडरेशन ने कड़ी आपत्ति दर्ज करते हुए तत्काल सम्बंधित सरपंच व सचिव पर सख्त कार्यवाही की मांग की है।फेडरेशन के प्रदेशाध्यक्ष जाकेश साहू ने मीडिया में बयान जारी करते हुए कहा कि ग्राम पंचायत के सरपंच व सचिव ने अपने सीमा व अधिकार से बाहर जाकर संस्था के प्राचार्य व प्रधान पाठक का ड्यूटी कोरोनटाइन सेंटर में लगाने का आदेश जो जारी किया है उसमे सरपंच व सचिव का ग्राम के शिक्षकों से किसी रंजिस, जलन व ईर्ष्या की बू आ रही है।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप NEWS ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये

इस आदेश से प्रदेशभर के शिक्षकों की भावनाओ को एक गहरा ठेस लगा है जो बर्दास्त से बाहर है। इसका मतलब तो यह हुआ कि शिक्षकों की इज्जत व मानसम्मान ही नहीं है। अर्थात पंचायत व ग्राम में कोई भी आकर किसी भी शिक्षक को कुछ भी बोल कर चला जाए और हम देखते रहे मतलब शिक्षकों की कोई इज्जत ही नहीं।

यदि शिक्षकों की कंही भी ड्यूटी लगानी हो तो एक सक्षम अधिकारी द्वारा आदेश जारी किया जाए। ग्राम का सरपंच या सचिव कौन होता है जो एक प्राचार्य व प्रधान पाठक की ड्यूटी कोरोनटाइन सेंटर में मनमर्जी से लगाएं।छत्तीसगढ़ प्राथमिक शिक्षक फेडरेशन द्वारा प्रदेश सरकार से यह मांग की जाती है कि उक्त दोषी सरपँच व सचिव जिसके द्वारा यह नियम विरुद्ध कृत्य किया गया है उन पर सख्त कानूनी कार्यवाही की जाय अन्यथा संगठन द्वारा इस मामले में आंदोलन छेड़ा जाएगा।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...