पहली श्रमिक स्पेशल ट्रेन से मुंगेली जिले के 33 श्रमिको का हुआ आगमन,थर्मल स्केनिंग के बाद बालक छात्रावास जरहागांव मे क्वारेंटाइन

मुंगेली(अतुल श्रीवास्तव)।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मंशा के अनुरूप गुजरात की राजधानी गांधी नगर (अहमदाबाद) से आज छत्तीसगढ़ के श्रमिको को लेकर पहली श्रमिक स्पेशल ट्रेन बिलासपुर पहुॅची।  पहली श्रमिक स्पेशल ट्रेन मे मुंगेली जिले के 33 श्रमिक भी शामिल थे। कलेक्टर डाॅ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने इन श्रमिको को बिलासपुर से मुंगेली जिला लाने के लिए बसों की व्यवस्था की साथ-साथ स्वास्थ्य पुलिस और अन्य विभागों के अधिकारियो की एक सयुंक्त टीम की ड्यूटी लगाई गई थी । स्वास्थ्य विभाग के टीम द्वारा इन श्रमिको का बिलासपुर रेल्वे स्टेशन मे थर्मल स्केनिंग किया गया । इसके बाद इन श्रमिको को  डिप्टी कलेक्टर अनुराधा अग्रवाल और नवीन भगत के मार्गदर्शन मे मुंगेली जिला लाया गया।

लाॅकडाउन मे फसे इन श्रमिको के अपनी माटी मुंगेली आने पर उनके चेहरो मे एक नयी मुस्कान आ गई । मुंगेली जिला आने पर उन्हे विकास खण्ड मुंगेली के ग्राम जरहागांव के बालक छात्रावास मे स्थापित  क्वारेंटाइन सेंटर में 14 दिन के लिए  क्वारेंटाइन किया गया । कलेक्टर डाॅ. भुरे ने संबंधित अधिकारियों को सुरक्षा मानको का पालन करते हुए  क्वारेंटाइन श्रमिको के लिए भोजन, पेयजल आदि की समुचित व्यवस्था के साथ-साथ क्वारेंटाइन सेंटर में सोशल डिस्टेसिंग और शारीरिक  स्वच्छता के लिए हेंडवास सेनेटाइजर आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिये है।  

loading...
loading...

Comments

  1. By Narayan Ayam

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...