दिल्ली से बिलासपुर तक- शराबबन्दी की मांग..सांसद ने परिवार के साथ दिया धरना..इधर पार्षदों ने भी खोला मोर्चा

बिलासपुर— छत्तीसगढ़ में पूर्ण शराबबन्दी की मांग को दिल्ली से बिलासपुर तक भाजपा जनप्रतिनिधियों ने धरना प्रदर्शन किया। धरना प्रदर्शन में परिवार के सदस्य भी शामिल हुए। दिल्ली स्थित अपने बंगले में सांसद अरूण साव ने परिवार के साथ धरना प्रदर्शन किया। पोस्टर के साथ राज्य में पूर्ण शराबबन्दी की मांग की । इधर अमर अग्रवाल ने भी अपने बंगले के सामने धरना प्रदर्शन कर कांग्रेस सरकार पर वादा खिलाफी का आरोप लगाया। वार्ड क्रमांक 34 के पार्षद दुर्गा सोनी अपने परिवार के साथ धरना दिया। वहीं जबड़ापारा क्षेत्र में पार्षद विजय ताम्रकार ने भी शराबबन्दी की मांग की है।
 
         कोरोना संकट के बीच आज भाजपा प्रदेश इकाई के आह्वान पर सांसद अरुण साव ने दिल्ली स्थित अपने बंगले के सामने छत्तीसगढ़ में पूर्ण शराबबंदी लागू करने को लेकर धरना प्रदर्शन किया। इसके अलावा विभिन्न मांगो को लेकर 178 नार्थ एवेन्यू नई दिल्ली स्थित निवास के सामने पोस्टर के साथ पूर्ण शराबबन्दी की मांग की है।
 
              बताते चलें कि बिलासपुर में अपने बंगले के सामने पूर्व आबकारी मंत्री ने पूर्ण शराबबन्दी की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन किया है। वहीं दिल्ली में अपने परिवार के साथ सांसद अरूण साव ने भी मोर्चा खोला है।
 
                             धरना प्रदर्शन के दौरान सांसद अरूण साव ने कहा कि कांग्रेस पूर्ण शराबबंदी का वादा कर प्रदेश में सत्तासीन हुई है। बेहतरीन अवसर होने के बावजूद भूपेश सरकार ने शराबबंदी की जगह शराब बिक्री का चयन किया है। जिस वक्त घरों तक दवा पहुंचाने चाहिए थे उस वक्त प्रदेश की सरकार शराब की होम डिलीवरी करा रही है । इससे अधिक शर्मनाक कुछ नहीं हो सकता है।
 
    अरूण साव ने कहा कि प्रदेश का मजदूर भीख मांगने की स्थिति में पहुंच गया है। दूसरे राज्यों में प्रदेश के मजदूर फंसे हुए हैं। कांग्रेस सरकार उन्हें सिर्फ झूठ का पुलिंदा थमा रही है। केंद्र ने मजदूरों की घर वापसी के लिए नि:शुल्क ट्रेन की व्यवस्था की है। लेकिन कांग्रेसी जगह-जगह मजदूरों को भ्रमित कर रहे हैं कि कांग्रेस उनके टिकट का किराया दे रही है। साव ने बताया कि कहा कि सरकार राजस्व के लिए केवल शराब पर निर्भर होकर रह गई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस केंद्र सरकार पर ठिकरा फोड़ना छोड़े। क्योंकि शराबबंदी करने या नही करने का अंतिम फैसला राज्य सरकार के हाथ में है। लेकिन प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने शराब बंदी की जगह शराब बिक्री और होम डिलीवरी का चयन किया।  जो उनकी मानसिकता को दर्शाती है।
 
दुर्गा सोनी ने परिवार के साथ प्रदर्शन
 
                   वार्ड क्रमांक 34 के पार्षद दुर्गा सोनी परिवार के साथ घर के सामने शराबबन्दी की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। दुर्गा सोनी ने बताया कि कांग्रेस पार्टी शराब बंदी और किसानों को बोनस कर्जा माफ जैसे वादों को मुख्य हथियार बनाकर चुनाव लड़ी। सरकार बनाने के करीब डेढ़ साल बाद भी मुख्य वादा को पूरा नहीं किया गया। शराब बंदी  पर अमल नही किया गया। सरकार की वादाखिलाफी पर समस्त भाजपा पदाधिकारी ,पार्षदगण,कार्यकर्ताओ ने दोपहर 3 से 5 बजे तक धरना प्रदर्शन किया है।
 
          वार्ड क्रमांक 34 सन्त रविदास नगर में पार्षद दुर्गा सोनी के साथ परिवार के सदस्यों ने भी धरना दिया। दुर्गा सोनी के साथ पूर्व पार्षद रजनी दुर्गा सोनी, अली असगर, सचिन सोनी समेत अन्य लोग भी हाथ में पोस्टर लेकर विरोध जाहिर किया।
loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...