किसानों को फायदा होते देख..भाजपा नेताओं के पेट में दर्द..कांग्रेस नेता अटल ने कहा..किसान पुत्र ने निभाया फर्ज

बिलासपुर—-किसानों को फायदा पहुंचते देख..भाजपा नेताओं के पेट में दर्द होने लगा है। जबकि ऐसा होना नहीं चाहिए। यह बातें प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अटल श्रीवास्तव नें कही। अटल ने बताया कि छत्तीसगढ़ का किसान बेटा ने किसानों को अधिकार देकर अपने फर्ज निभाया है। और फर्ज निभाता रहेगा। 
 
                  राजीव गांधी किसान न्याय योजना के माध्यम से छत्तीसगढ़ के किसान मुख्यमंत्री ने किसान पुत्र होने का फर्ज निभाया है।  पहली किष्त राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर 21 मई को किसानों के खाते में राशि स्थानांतरित किया गया है। केवल धान बोने वाले किसानों को ही नहीं बल्कि गेहूं, मक्का, गन्ना और तिलहन उत्पादन करने वाले किसानों को भी 10000 रूपए प्रति एकड़ की दर से राशि प्रदान की गई है। यह राश ऐसे समय में किसानों को दी गई है। जब उन्हें सबसे ज्यादा जरूरी था।
 
          वैश्विक महामारी के दौर में मुख्यमंत्री ने एक तरफ ग्रामीण अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में निर्माण कार्यों की प्रारम्भ कर दिया है। मनरेगा के माध्यम से मजदूरों को काम दिया जा रहा है। किसान न्याय योजना के तहत् किसानों को सहायता प्रदान की गयी है।
 
              प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष अटल श्रीवास्तव ने डाॅ. रमन सिंह, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक के बयानों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि  किसानों का शोषण करने वाली सरकार,  संकल्प करने के बाद भी किसानों का बोनस ही देने वाली सरकार , नान घोटाला वाली सरकार हमें नसीहत ना दें। समझा जा सकता है कि किसानों और मजदूरों को फायदा पहुंचने पर उन्हें कितना दुख होता होगा। 
 
                 श्रीवास्तव ने कहा कि इस योजना का लाभ भाजपा के किसानों को भी मिलेगा। उन्हें इसका स्वागत करना चाहिए। छत्तीसगढ़ बनने के बाद पहली बार छत्तीसगढ़ीया और किसान मुख्यमंत्री बना है ।  जिसका लाभ किसानों, मजदूरों को मिलने लगा है। पूरे देष में किसानों को फायदा पहुंचाने वाली पहली सरकार छत्तीसगढ़ की भूपेश बघेल सरकार है।  जिसने 2500 रूपए  प्रति क्विंटल धान खरीदकर किसानों की दशा और दिशा बदलने का काम किया है।
     
                 राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत  भूमिहीन किसानों मजदूरों को भी सहायता देने की योजना बनाई जा रही है, जिसके लिए मुख्यमंत्री जी ने सचिव स्तरीय समिति गठित कर दी है, रिपोर्ट प्राप्त होते है, उस योजना को प्रारम्भ किया जायेगा। राहुल गांधी जी ने इस योजना की सराहना करते हुए कहा कि 20 लाख करोड़ की प्रधानमंत्री जी की योजना सिर्फ भाशणों और कागजों में है, राजीव गांधी किसान न्याय योजना घोशित होते ही नगदी में बदल गई।
भवदीय,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *