स्टाम्प वेन्डरों में खदबद..दुकानों के शटर पर नोटिस चस्पा..3 दिन के अन्दर बेजाकब्जा खाली का आदेश

बिलासपुर—- कंपोजिट बिल्डिंग परिसर स्थित बेतरतीब बने दुकानों के शटर पर बेजाकब्जा हटाने का आदेश चस्पा किए जाने के बाद दुकानदारों में हलचल मच गयी है। शासन ने 70 दुकानों को चिन्हांकित कर बेजाकब्जा घोषित किया है। वहीं इस खबर के बाद दुकानदारों में नाराजगी बढ़ गयी है। सोमवार को दुकानदारों ने कलेक्टर और नजूल अधिकारी से मिलकर आदेश को वापस लिए जाने की बात कही है। 
 
                 कंपोजिट बिल्डिंग परिसर में बने स्टाम्प वेंडरों बेतरतीब बने होटल चाय-पान दुकान को हटाया जाएगा। जिला प्रशासन ने 70 दुकानों को चिन्हांकित कर तीन दिन के अन्दर कब्जा को हटाने का आदेश दिया है। तीन दिन के अन्दर दुकान नहीं हटाए जाने पर अतिक्रमण अभियान चलाने की चेतावनी दी है।
 
              जानकारी के अनुसार एक दिन पहले प्रदेश सरकार के प्रमुख सचिव आरपी मण्डल जोगी के अंतिम विदाई कार्यक्रम में शिरकत करने बिलासपुर पहुंचे। उन्होने इस दौरान पुराना कम्पोजिट बिल्डिंग का भी भ्रमण किया। रजिस्ट्री कार्यालय के सामने गंदगी और बजबजाती नालियों के अलावा बेतरतीब दुकानों को देख नाराजगी जाहिर की। साथ खाली स्थान पर भवन निर्माण करने का आदेश दिया। इसके पहले अतिक्रमण हटाने का आदेश दिया। 
 
रविवार को नोटिस चस्पा
 
                     प्रमुख सचिव के निर्देश के बाद नजूल अधिकारी के आदेश पर रविवार को दुकानदारों को बिना सूचना दुकानों के सामने नोटिस चस्पा कर दिया। चस्पा नोटिस में 30 मई का आदेश बताया गया है। नोटिस में साफ लिखा है कि तीन दिनों के अन्दर यानि 1 जून को परिसर में स्थित सभी 70 दुकानों को खाली करने को कहा गया है। 
 
          मजेदार बात है कि जब नोटिस चस्पा किया जा रहा था..उस समय सभी दुकानदार अपने घर में रविवार यानि छुट्टी का आनन्द ले रहे थे। लेकिन जैसे ही नोटिस चस्पा होने के साथ दुकान खाली करने की जानकारी मिली..लोगों की धड़कने बढ़ गयी। देखते ही देखते सभी लोग एक दूसरे से फोन लगाकर सच्चाई का पता लगाने का प्रयास किया। खबर सही पाए जाने पर आक्रोश जाहिर किया है।
 
दुकानदार ने कहा अब कहां जाएंगे
 
 
              एक दुकानदार ने बताया कि नोटिस की जानकारी उन्हें दूसरे से घर में मिली। नोटिस में लिखा गया है कि 3 दिन के अन्दर कब्जा हटाए। अन्यथा बेजाकब्जा की कार्रवाई की जाएगी। और जुर्माना भी लिया जाएगा। दुकानदार ने जानकाीर दी कि नोटिस 31 मई रविवार को चस्पा किया गया। नोटिस में आदेश 30 मई का बताया गया है। अब हमारे पास मात्र एक दिन यानि सोमवार का है। इस दिन हम रोजगार करें या फिर दुकान खाली करे। कुछ समझ में नहीं आ रहा है।
 
जिला प्रशासन से करेंगे बात–धरम
 
         दुकानदार ने बताया कि हम में से कुछ दुकानदारों ने क्षेत्रीय विधायक धरमलाल कौशिक से सम्पर्क किया है। उन्होने आश्वासन दिया है कि इस बात की जानकारी उन्हें भी अखबार से मिली है। आदेश पूरी तरह से तुगलकी है। किसा दुकानदार के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। मामले में प्रशासन से बातचीत करेंगे। वस्तुस्थिति का पता लगाएंगे। 
 
बेतरतीब पार्किंग को देख भड़के सीएस
 
                       बताते चलें कि जब प्रमुख सचिव आरपी मण्डल कंपोजिट बिल्डिंग परिसर पहुंचे तो गंदगी और बेतरतीब दुकानों के अलावा गैर जिम्मेदारी से खड़ी की गयी गाड़ियों को देखकर नाराजगी जाहिर की। इस उन्हें खुद पैदल चलने में भी परेशानी हुई। उन्होंने तत्काल सड़क से गाड़ियों को ना केवल हटाने को कहा..बल्कि अतिक्रमण को तीन दिनों के भीतर साफ करने का भी आदेश दिया। इसके बाद जिला प्रशासन देखते ही देखते..छुट्टी में भी सक्रिय हो गया। 70 दुरानों में नोटिस चस्पा कर सोमवार तक मौके के निर्माण को हटाने का आदेश दिया।
loading...

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...