चीनी माल की ट्रांसपोर्टिंग से इंकार..ट्रक ऑपरेटर्स, ट्रांसपोर्टर्स एसोसिएशन का फैसला..जनता से कहा..करो बहिष्कार

इणिडया वालः मध्यप्रदेश—सीमा पर चीन के साथ झड़प में  20 भारतीय जवानों के शहीद होने के बाद इंदौर ट्रक ऑपरेटर्स एंड ट्रांसपोर्टर्स एसोसिएशन ने चीनी माल नहीं ढोने का निर्णय लिया है। एसोसिएशन के अध्यक्ष सीएल मुकाती ने बताया कि देश की सीमा पर हमारे सैनिक सुरक्षा के लिए तैनात हैं।  चीनी सैनिक हमारे सैनिकों को मार रहे हैं। और चीनी कंपनियां का सामान परिवहन करें..यह किसी भी सूरत में संभव नहीं है। 

           मुकाती ने बताया कि हमने अपने सभी सदस्यों से अनुरोध किया है कि चायना के माल की बुकिंग बंद कर दें। हम्माल भाई चीनी सामान की लोडिंग-अनलोडिंग रोक दें। चालक भी चायना के माल से भरे ट्रक ना चलाएं। देश की जनता से अनुरोध  हैं कि चीनी माल नहीं खरीदें। यही शहीद सैनिकों को सच्ची श्रद्धांजलि होगी

जनता में आक्रोश

           जानकारी देते चलें कि जवानों के शहीद होने के बाद देश की जनता में चीन के खिलाफ खासा आक्रोश  है। अपनी करतूतों से बाज नही आने वाले चीन ने घात लगाकर भारतीय जवानों पर हमला कर दिया।  भारतीय  जवानों ने भी जमकर जवाब दिया। जवानों के शहीद होने की खबर के बाद  देशभर में लोग सड़क पर उतर गुस्से का इजहार कर रहे हैं। राजधानी दिल्ली, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़ और गुजरात समेत तमाम राज्यों के कई शहरों में प्रदर्शन का दौर जारी है। बंगाल के उत्तरी जिले के विभिन्न इलाकों में सैंकड़ों लोगों ने शहीद भारतीय जवानों के लिए न्याय की गुहार लगाते हुए विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही लोगों से चीनी सामानों के बहिष्कार का एलान किया।

 

 

            गुस्साए लोगों ने बुधवार को देश भर में विरोध प्रदर्शन किया । चीनी सामानों पर जमकर अपना गुस्सा निकाला। गुजरात के अहमदाबाद स्थित बापू नगर में चीन की हरकत से गुस्साए लोगों ने चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग की  तस्वीरों को आग के हवाले किया।

                               बिलासपुर में भी युवा नेता और आम नागरिकों ने चीन के खिलाफ आवाज बुलंद किया। जनता सेचीनी सामान बहिष्कार किए जाने को कहा। साथ ही चीनी सामान के खिलाफ जनजागरण अभियान चलाने का एलान किया है।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...