इधर पुलिस कप्तान ने कहा..उधर 100 से अधिक बदमाशों की हो गयी पेशी.. एसपी का निर्देश.करें पैदल पेट्रोलिंग

बिलासपुर— पुलिस कप्तान ने पुलिस के अधिकारियों  के साथ बैठक कर  जिले में विशेष प्रयास और अभियान चलाकर आदतन बदमाशों और गुंडों के खिलाफ सख्त कदम उठाने को कहा है। पुलिस कप्तान के निर्देश के बाद जिले के 100 से अधिक बदमाशों को थाना बुलाकर समझाइश दी गयी।  साथ ही आदत से बाज नहीं आने पर कठोर कार्रवाई की बात कही है। 
 
                 जिले में बढ़ते अपराधिक गतिविधियों के  मद्देनजर पुलिस कप्तान प्रशांत अग्रवाल ने पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक कर आदतन बदमाशों के खिलाफ सख्त कदम उठाने की बात कही है। बैठक में एसपी ने कहा कि सभी थाना क्षेत्र के प्रभारी मामले को गंभीरता से लें। क्षेत्र के पुराने और आदतन बदमाशों को सख्त लहजे में अमन शांति का पाठ पढ़ाएं। 
 
          प्रशांत अग्रवाल ने थानेदारों को दो टूक कहा कि थाना प्रभारी क्षेत्र में पैदल पेट्रोलिंग करें। चौक-चौराहों और गली-मोहल्लों में लगातार गश्त करें। बैठक में एसपी प्रशांत अग्रवाल के अलावा एएसपी ओपी शर्मा, एएसपी संजय ध्रुव, सीएसपी आरएन यादव, सीएसपी निमेश बरैया, सीएसपी निमिषा पाण्डेय, सीएसपी सुनील डेविड, टीआई शीतल सिदार, टीआई कलीम खान, टीआई सुरेन्द्र स्वर्णकार, टीआई शनिप रात्रे, टीआई परिवेश तिवारी, टीआई प्रदीप आर्य, टीआई यूएन शांत कुमार, टीआई रविन्द्र यादव व अन्य मौजूद थे।
 
100 से अधिक बदमाशों को थाना बुलाकर दी गयी चेतावनी
 
           पुलिस कप्तान की बैठक के बाद अलग अलग थाना क्षेत्र के प्रभारियों ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए 100 से अधिक बदमाशों को बुलाकर सख्त निर्देश दिया। थानेदारों ने बदमाशों को चेतावनी के साथ बताया कि छोटी से छोटी गलतियों को बर्दास्त नहीं किया जाएगा। 
 
लॉकडाउन की तरह करें कड़ाई
 
             बैठक में एसपी प्रशांत अग्रवाल ने सभी पुलिस अधिकारियों और थाना प्रभारियों को आदेश दिया कि  पुलिस को अमन शांति के लिए अतिरिक्त प्रयास करना होगा। लॉकडाउन के शुरुआती चरण की तरह ही काम करना होगा।
 
पेंडेंसी खत्म करने का निर्देश , नहीं चलेगी गुंडागर्दी
 
            पुलिस अधिकारियों को पुलिस कप्तान ने कहा कि दर्ज आपराधिक प्रकरणों का निराकरण जल्द से जल्द किया जाए। चोरियों, चाकूबाजी, गुंडागर्दी जैसे अपराधिक गतिविधियों पर नकेल कसने सख्त कदम उठाए जाएं। अपराधियों में कानून का डर बनाने कड़ी से कड़ी कार्रवाई करें।
loading...
loading...

Tags:,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...