अमित ने कहा..पापा की लड़ाई लडूंगा.. षड़यंत्रकारी सावधान..आदिवासी सम्मान का बाल बांका नहीं कर पाएंगे

रायपुर—-अब अजीत की लड़ाई, रेनु और अमित लड़ेंगे। वो अजीत हैं, अन्याय को हमेशा हराया और हमे भी लड़ना सिखाया। यह बातें रविवार को अमित जोगी ने लिखित बयान में प्रेस को जारी किया है।
 
               अमित जोगी ने विपक्ष को सावधान किया है। अमित जोगी ने जाति मामले में बयान जारी किया है कि राजनीतिक द्वेष से ग्रसित हाई पावर कमिटी ने 23 अगस्त 2019 को अन्यायपूर्ण निर्णय लिया। इसके खिलाफ स्वर्गीय अजीत जोगी ने उच्च न्यायालय में रिट पिटीशन लगाया।
   
              याचिकाकर्ता मेरे पिता अजीत जोगी के स्वर्गवास के कारण उनकी कानूनी उत्तराधिकारी होने के नाते, अन्याय के खिलाफ लड़ाई लडूंमगा। मैं और मेरी माँ डॉक्टर रेणु जोगी मामले को आगे बढ़ाएंगे। इस संबंध में 22 जून 2020 को हम दोनो ने उच्च न्ययालय, बिलासपुर में याचिकाकर्ता बनने आवेदन दाखिल किया है।
       
                अजीत जोगी ने प्रेस नोट में लिखा है कि पापा के खिलाफ  षड्यंत्र करने वालों को बता देना चाहता हूँ कि चाहे कितनी भी मेहनत करें, आदिवासी मान और अस्तित्व का बाल भी बांका नही कर पाएंगे। पिता का नाम ‘अजीत’ है। अपने जीवन में कभी अन्याय से नही हारे।   उनके मान और पहचान को नहीं हारने देंगे। वो योद्धा थे… और हमे भी अन्याय के विरुद्ध लड़ने में निपुण बनाया।  जब तक है ये जहान, अजीत जोगी जी का ऊँचा रहेगा मान।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *